blog

बिहार : अफसर रोकते रहे, लेकिन लड़की को देर तक दबोचे रहा पुलिसकर्मी

Spread the love

यहां बेली रोड पर एक जवान की करतूत ने पूरे पुलिस महकमे को शर्मसार कर दिया। महिला पुलिसकर्मियों की मौजूदगी के बावजूद एक जवान ने प्रदर्शन कर रही स्टूडेंट को बुरी तरह से दबोच लिया। बेशर्मी की हद तो तब हो गई, जब वहां मौजूद अफसर उस जवान को रोकते और धकेलते रहे, पर वह नहीं माना। लड़की को उसने पीछे से कसकर दबोच रखा था।

बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को बुला लिया गया। महिला पुलिसकर्मी लड़कियों को रोक रही थीं और पुरुष पुलिसकर्मी लड़कों को।

इंटर एग्जाम की कॉपियों की री-चेकिंग के लिए बुधवार को तारामंडल के पास बेली रोड को वामपंथी संगठनों की अगुआई में जाम किया जा रहा था। इस दौरान प्रदर्शनकारी और पुलिस के बीच नोकझोंक, हाथापाई और लाठीचार्ज तक हो गया।

इसी बीच, एक लड़की को पुरुष पुलिसकर्मी ने दबोच लिया।

चक्काजाम के दौरान पुलिस ने स्टूडेंट्स पर लाठीचार्ज किया। इसमें कई स्टूडेंट्स घायल हो गए। एआईएसएफ के राज्य सचिव सुशील कुमार का हाथ टूट गया। उन्हें पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है। लाठीचार्ज के बाद बेली रोड पर अफरातफरी मच गई। झड़प में कुछ पुलिसकर्मियों को भी चोटें आई हैं।

वे स्क्रूटिनी बंद कर कॉपियों की री-चेकिंग करने, उसका रिजल्ट पब्लिश करने और पूरे मामले की हाई लेवल ज्यूडिशियल इन्क्वायरी की मांग कर रहे हैं।

इंटर के रिजल्ट में इस बार 8 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स फेल हो गए थे। इसके विरोध में आंदोलन लगातार जारी है। 8 वामपंथी स्टूडेंट्स यूनियन ने 12 जून से भूख हड़ताल शुरू की है।

रिजल्ट निकलने के बाद से हर दिन स्टूडेंट्स प्रदर्शन कर रहे हैं और पुलिस उन्हें लाठीचार्ज कर खदेड़ रही है। इस मसले का कोई हल निकलता नहीं दिख रहा है।

बुधवार को प्रदर्शन के दौरान भीषण गर्मी में जाम से लोगों को दिक्कतें हुईं, इस दौरान गाड़ियों की लंबी कतार लग गई। राहगीरों की स्टूडेंट्स से बहस भी हुई।

मंगलवार देर रात दो स्टूडेंट्स की तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। गुस्साए स्टूडेंट्स बैनर-पोस्टर लेकर सड़क पर बैठ गए और नारेबाजी करने लगे।

जाम की जानकारी मिलने पर कोतवाली और अन्य थानों की पुलिस से स्टूडेंट्स की नोकझोंक हुई। पहले पुलिस ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन स्टूडेंट्स नहीं माने। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर छात्रों को खदेड़ दिया।

स्टूडेंट्स के प्रदर्शन के बाद वाम संगठनों की एजुकेशन सेक्रेटरी आरएल चोंग्थू से बातचीत हुई। लेकिन यह बेनतीजा रही।

You might also like