UA-128663252-1

बिहार विधानसभा चुनाव: JDU और LJP ने दी एक-दूसरे को अकेले चुनाव लड़ने की चुनौती, जाने क्या कहा

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सारी पार्टियां जोर शोर से प्रचार में जुट गयी हैं, चुनाव प्रचार के दौरान नेताओं में कहीं भी कोरोना का कोई खौफ नही दिखाई दे रहा है। जहां पहले एनडीए के समर्थक दल जेडीयू और एलजेपी के बीच शुरू हुई खटास अब और खुलकर सामने आने लगी है। इसी क्रम में बुधवार को दोनों दल के नेताओं ने एक-दूसरे की पार्टी को विधानसभा चुनाव में अकेले लड़ने की चुनौती दे डाली।

सीतामढ़ी से जदयू सांसद सुनील कुमार पिंटू ने कहा कि लोजपा मन में गलफत में नहीं रहे। अगर उसे कोई गलतफहमी है तो वह अकेले चुनाव लड़के देख ले। समझ में आ जाएगा। उन्होंने लोजपा के इस बयान पर नाराजगी जतायी कि जिसमें कहा गया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी बिहार विधानसभा का चुनाव लड़ें।

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार वर्ष 1985 में ही विधानसभा का चुनाव लड़के जीत चुके हैं। उस समय चिराग पासवान दो-तीन साल के बच्चे थे। नीतीश कुमार पर कोई भी टिप्पणी करने से पहले चिराग पासवान को अपनी हकीकत को भी देख लेनी चाहिए।

Gyan Dairy

वहीं लोजपा के प्रवक्ता अशरफ अंसारी ने सुनील कुमार पिंटू पर गहरा ऐतराज जताते हुए कहा कि जदयू वर्ष 2014 का लोकसभा चुनाव याद कर ले। जदयू को हिम्मत है तो वह विधानसभा का चुनाव अकेले लड़के देख ले। जनता जदयू को सबक सिखा देगी। उन्होंने यह भी कहा कि वर्ष 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद मोदी के आशीर्वाद से सुनील कुमार पिंटू सांसद बने थे। यह उन्हें नहीं भूलना चाहिए।

Share