बिहार के बजट में खास बातें, बिहार का बजट देख लिए अब एक बार केरल का बजट देख लीजिये !

जिस तरह से आअज केरल ने फ्री इन्टरनेट कनेक्शन, दवा, पत्रकारों के पेंशन में वृद्धि तथा महिलाओं के खिलाफ आपराध रोकने के लिए अलग बजट का प्रावधान किया हैं. यह वास्तव में आधुनिक भारत के निर्माण के लिए एक मिशाल हैं…केरल के वित मंत्री इसाक ने कहा कि इंटरनेट को लोगों के अधिकार की तरह बनाया जाएगा.

उन्होंने कहा, ‘अब इंटरनेट लोगों के लिए अधिकार की तरह हो जाएगा और 18 महीनों के भीतर ‘के’ फोन नेटवर्क के जरिए इंटरनेट गेटवे स्थापित किया जाएगा. इसकी लागत 1000 करोड़ रुपये आएगी. इसाक ने कहा, ‘बीस लाख गरीब परिवारों को मुफ्त इंटरनेट प्राप्त कर सकेंगे, जबकि दूसरों को कम दरों पर यह दिया जाएगा.’

महिलाओं के खिलाफ अपराधों को रोकने की विभिन्न योजनाओं के लिए 68 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. यौन अपराधियों का एक सार्वजनिक रजिस्टर बनाने का प्रस्ताव भी इस बजट में किया गया है. उन्होंने कहा,’महिलाओं के खिलाफ अपराध मलयाली समुदाय के लिए शर्म की बात है.’

Gyan Dairy

बजट में पत्रकारों की पेंशन राशि में 2,000 रुपये की वृद्धि का ऐलान किया है. इसके बाद पत्रकारों की पेंशन 10,000 रुपये प्रति माह हो जाएगी. इसाक ने कहा कि मीडिया अकैडमी के लिए तीन करोड़ रुपये और केसरी जर्नलिस्ट ट्रस्ट के लिए पांच लाख रुपये की राशि स्वीकृत की गयी है.

बिहार के बजट में खास बातें जो थी:

  • खाताधारियों को प्लास्टिक मनी देने पर जोर
  • कर की चोरी रोकने के उपाय पर सरकार गंभीर
  • नोटबंदी का असर बिहार के अर्थयव्यवस्था पर पड़ा
  • लोकायुक्त के लिए 5 करोड़ की राशि मंजूरी
  • बुनकरों के लिए खुलेंगें कौशल विकास केंद्र
  • निश्चयों को नियत समय पर पूरा करेंगे
  • चतुर्थ ग्रेड कर्मचारियों के लिए आवास योजना
  • बिहार विधानमंडल में वर्ष 2017-18 का बजट पेश
  • बजट में युवाओं, महिलाओं की शिक्षा पर विशेष जोर
  • शराबबंदी से होनेवाले नुकसान की भरपाई का प्रयास
Share