बिहार: नीतीश ने 12वीं पास को बनाया वित्त और वाणिज्य मंत्री, आरजेडी का हमला

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने 7वीं बार सीएम पद की शपथ ली है। जहां चुनाव से पहले नितीश कुमार ने तेजस्वी यादव को 10वीं फेल बताते थे वहीं उन्होने अपनी सरकार में वित्त और वाणिज्य मंत्रालय 12वीं पास मंत्री को दे दिया है, इसी को लेकर आरजेडी ने तंज कसते हुए हमला किया है। बिहार में नई सरकार के गठन के बाद मुख्य मंत्री नीतीश कुमार ने अपने मंत्रिमंडल की पहली बैठक में मंगलवार को मंत्रियों के विभागों का बंटवारा कर दिया। लेकिन विभागों के बंटवारे के साथ ही इसपर सवाल भी उठने लगे हैं। विपक्ष के साथ-साथ सोशल मीडिया पर मंत्रियों की शैक्षणिक योग्य और आपराधिक मामलों को लेकर चर्चाएं जोरों पर है। तारकिशोर प्रसाद को जहां उप मुख्यमंत्री बनाया गया है वहीं उन्हें एक-दो नहीं बल्कि 6 मंत्रालयों की जिम्मेदारी दी है।

गौर करने वाली बात ये है कि तारकिशोर प्रसाद पहली बार मंत्री बने हैं और उन्हें वित्त, वाणिज्य, पर्यावरण, वन एवं जलवायु, सूचना प्रावैधिकी, आपदा प्रबंधन, नगर विकास एवं आवास विभाग जैसे अहम मंत्रालय दिए गए हैं। तारकिशोर प्रसाद को इतने अहम मंत्रालय दिए जाने को लेकर चर्चा इसलिए भी हो रही है कि उन्होंने महज 12वीं तक की पढ़ाई की है। पिछली सरकार में वित्त विभाग सुशील कुमार मोदी के पास था जिन्हें इस बार नीतीश सरकार में स्थान नहीं मिला है।

दरअसल विधानसभा चुनाव में एनडीए के नेता लगातार आरजेडी नेता और महागठबंधन के सीएम उम्मीदवार तेजस्वी यादव की शैक्षणिक योग्यता पर सवाल उठाते रहे। एनडीए के नेता चुनावी सभाओं में तेजस्वी यादव के नॉन मैट्रिक होने की बात जोर शोर से उठाते रहे। अब 12वीं पास तारकिशोर प्रसाद को वित्त, वाणिज्य जैसे अहम मंत्रालय दिए जाने पर आरजेडी के साथ-साथ कई विपक्षी पार्टियां सवाल उठा रही है। आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि तेजस्वी यादव पर सवाल उठाने वालों को क्या हो गया है जो पहली बार मंत्री बने कम पढ़े लिखे नेता को इतना अहम मंत्रालय दे दिया है।

नीतीश कुमार के नए मंत्री और उनका मंत्रालय

नीतीश कुमार (मुख्यमंत्री)- गृह, सामान्य प्रशासन, मंत्रिमंडल सचिवालय, निगरानी और निर्वाचन विभाग के अलावा वे सभी विभाग रखे हैं जो अबतक किसी को आवंटित नहीं किये गए हैं।

तारकिशोर प्रसाद (उपमुख्यमंत्री)- वित्त, वाणिज्य कर, पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन तथा आपदा प्रबंधन, सूचना प्रौद्योगिकी तथा नगर विकास की जिम्मेदारी

रेणु देवी (उपमुख्यमंत्री)- पंचायती राज, पिछड़ा एवं अत्यंत पिछड़ा कल्याण तथा उद्योग विभाग।

मेवालाल चौधरी- शिक्षा मंत्रालय

जीवेश कुमार- पर्यटन, श्रम और खनन मंत्रालय

विजय कुमार चौधरी- ग्रामीण कार्य, ग्रामीण विकास, जल संसाधन, सूचना-जनसंपर्क तथा संसदीय कार्य का मंत्री

Gyan Dairy

अशोक चौधरी- भवन निर्माण, समाज कल्याण, अल्पसंख्यक एवं विज्ञान प्रावैधिकी विभाग

विजेंद्र यादव- ऊर्जा, मद्य निषेध, योजना और खाद्य तथा उपभोक्ता मामला

शीला कुमारी- परिवहन मंत्रालय का प्रभार

संतोष कुमार सुमन (जीतन राम मांझी के पुत्र)- लघु जल संसाधन, अनुसूचित जाति/जनजाति कल्याण मंत्रालय

मुकेश सहनी- पशु एवं मतस्य संसाधन मंत्रालय

मंगल पांडे- स्वास्थ्य मंत्रालय, कला संस्कृति विभाग

अमरेन्द्र प्रताप सिंह- कृषि, सहकारिता समेत गन्ना विकास मंत्रालय

रामप्रीत पासवान- पीएचईडी मंत्रालय

रामसूरत राय- राजस्व और विधि मंत्रालय।

Share