दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने वापस लिया यह फैसला, जानिए पूरा मामला

नई दिल्ली। दिल्ली के उपराज्यपाल ने पांच दिन के संस्थागत क्वारंटीन के फैसले को वापस ले लिया है। उपराज्यपाल ने यह फैसला तब वापस लिया जब डीडीएमएड की बैठक में सरकार की ओर से इसका विरोध किया गया। उपराज्यपाल अनिल बैजल ने कहा कि संस्थागत क्वारंटीन उन लोगों के लिए है जिन्हें डॉक्टर के अनुसार अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत नहीं होगी।

लेकिन उनके पास घर में आइसोलेट होने की व्यवस्था नहीं है। ऐसे लोग घर में जगह की कमी के कारण संक्रमण फैला सकते हैं ऐसे में इन्हें संस्थागत क्वारंटीन में रहना जरूरी है, बाकी अगर कोई हल्के लक्षण वाला मरीज है और वह घर में क्वारंटीन हो सकता है तो उसे घर में ही रखा जाएगा।

गौरतलब है कि दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने आदेश दिया था कि दिल्ली में हल्के और​ बिना लक्षण वाले कोविड मरीजों को भी घर के बजाय पांच दिन के लिए क्वारंटीन सेंटर में रहना होगा। टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही मरीज को क्वारंटीन सेंटर में रहना होगा।

Gyan Dairy

 

Share