ग्लेशियर हादसाः लापता लोगों का नहीं लग रहा है पता, 32 शवों को किया गया बरामद

चमोली। उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर टूटने के बाद बड़ी तबाही हुई है। इस तबाही में अभी भी 206 लोग लापता हैं, जबकि 32 शवों को बरामद किया गया है। वहीं, राहत और बचाव कार्य में जुटी टीमें लगातार काम में जुटी है।

बचाव अभियान की अगुवाई कर रहे एसडीआरएफ कमाडेंट नवनीत भुल्लर के मुताबिक जितनी सफाई हो रही है उतनी ही तेजी से मलबा पीछे से आ रहा है। यही कारण है कि घटना के पहले ही दिन टनल 70 मीटर तक खोल दी गई थी, जबकि इसके शेष दो दिन में कुल और 80 मीटर ही सफाई हो पाई है।

जवान लकड़ी के फट्टे बिछाकर रास्ता बना रहे हैं। वहीं, बिजली परियोजना की सुरंग में फंसे हुए करीब 25-35 मजदूरों को निकालने की कवायद जारी है। मंगलवार को रैणी गांव स्थित ऋषिगंगा परियोजना की साइट से चार और शव मिले। इस तरह कुल मृतकों की संख्या 32 तक पहुंच गई है।

Gyan Dairy

 

Share