UA-128663252-1

बीजेपी शासित राजस्थान में दलितों से मारपीट, मंदिर में दर्शन करने नाराज़ सवर्णों ने की मारपीट

बीजेपी शासित बीजेपी में दलितों पर हमले का मामला सामने आया है। जालोर जिले में सियाणा के पास आडवाड़ा गांव के नवनिर्मित मंदिर पर मंगलवार शाम को दलित समाज के लोगों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया गया । दलितों की गलती इतनी थी कि वह नवनिर्मित मंदिर के दर्शन करने गए थे । गंभीर रुप से घायल तीन लोगों को जालोर रेफर किया गया।

आडवाड़ा के नवनिर्मित महादेव मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के बाद दर्शन करने गए लोगों से मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया, घायल लोगों को जालोर के राजकीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है । घायलों का कहना है कि जातिसूचक शब्दों से अपमानित करते हुए उनके ऊपर हमला किया गया।

मंदिर की सोमवार को ही प्रतिष्ठा हुई थी। जिसके तहत बाड़मेर के चंचल प्रागमठ से संत शंभूनाथ भी आडवाड़ा पहुंचे थे। मंगलवार सवेरे वे अपने भाविकों के साथ रामदेव मंदिर में बैठे थे। इस दौरान उन्होंने नवनिर्मित मंदिर में दर्शन की इच्छा जाहिर की। जिस पर भाविक उन्हें लेकर मंदिर पहुंचे। जहां पर वे शंभूनाथ, धीरजनाथ, उदाराम व सदाराम समेत मंदिर पहुंचे।

मंदिर से लौटते वक्त मौके पर मौजूद विजयसिंह, मुकेशसिंह, चौथाराम, चेताराम, छगनलाल देवासी समेत अन्य ने घात लगाकर उन पर लाठियों से हमला कर दिया । जिसमें कई लोग घायल हो गए ।

Gyan Dairy

संत शंभूनाथ ने कहा कि घटनाक्रम बेहद शर्मनाक है। कुछ असमाजिक और कुंठित मानसिकता के लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया है। संत ने कहा कि जब ईश्वर ने सभी को एकसमान बनाया है तो मन में एक दूसरे के प्रति ऐसी हीन भावना इंसानी प्रवृत्ति नहीं हो सकती।

जालोर पुलिस उप अधीक्षक दुर्गसिंह राजपुरोहित ने कहा कि यह मामला छुआछूत का नहीं है। विवाद खाना बनाने वाले लड़के से हुआ था जिसके बाद मामला मारपीट तक पहुंच गया.

Share