गुजरात में ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर कमलम किया, नए नाम में छुपा है राजनीति तत्व

अहमदाबाद। देश के कई हिस्सों में सरकार हर गली चैराहे और शहरों के नाम बदलने के लिए जानी जाने वाली भाजपा की सरकार ने इस बार फल का भी नामकरण कर दिया है। गुजरात में आने वाले ड्रैगन फ्रूट को नाम बदलकर नया नाम रखा गया है, रूपाणी सरकार ने फैसला किया है कि अब इसे ड्रैगन फ्रूट से बदलकर ‘कमलम‘ के नाम से जाना जाएगा। गुजरात के सीएम विजय रूपानी ने मंगलवार को बताया कि, राज्य सरकार ने ड्रैगन फ्रूट के नाम को ‘कमलम‘ में बदलने के लिए एक पेटेंट आवेदन जारी किया है।  ड्रैगन फ्रूट एक बड़े पैमाने पर कच्छ नवसारी और सौराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों में अधिक उगाया जाता है।

रूपाणी सरकार ने कहा कि, ड्रैगन फ्रूट के नाम के कारण कोई भी चीन के बारे में सोचने लगता है। इस नाम से जुड़ने के कारण व्यक्ति चीन को महसूस करता है, इसलिए हमने इसका नाम बदलकर ‘कमलम‘ नाम रख दिया है। यह पूछे जाने पर कि ड्रैगन फ्रूट का नाम कमलम ही क्यों दिया गया है,विजय रूपाणी ने बताया कि किसान के अनुसार, यह फल कमल की तरह दिखता है और यही वजह है कि हमने इसे ‘कमलम‘ नाम दिया है। ड्रैगन फ्रूट के नाम बदलने पर रूपाणी ने कहा कि यह फल राज्य के शुष्क क्षेत्रों में पाया जाता है और यह अपने पोषक तत्वों के लिए बेहद मसहुर है, साथ ही इसमें हीमोग्लोबिन बढ़ाने में काफी मदद करता है। उन्होंने यह भी कहा कि यह मार्केट में मौजूद सभी फलों में सबसे महंगा फल है।

Gyan Dairy
Share