केरल पुलिस हुई शर्मसार: पीड़िता से पूछा “किसने तुम्हे सबसे ज़्यादा आनंद दिया?

तिरुवनंतपुरम: केरल में अपने पति के दोस्तों द्वारा गैंगरेप की शिकार बनाई गई महिला ने पुलिस पर पूछताछ के दौरान बदसलूकी के गंभीर आरोप लगाये हैं. पीड़िता ने कहा कि पुलिस द्वारा अपमानित किए जाने की वजह से उसे मजबूरन अपनी शिकायत वापस लेनी पड़ी.

kerala-women-gangrape-survivor_650x400_51478156325
यह महिला और उसका पति गुरुवार को चेहरा ढंककर लोगों के सामने आए और अपनी कहानी बयां की. इस 35 वर्षीय महिला ने कहा, मैं पुलिस केस नहीं चाहती क्योंकि पुलिस हमें अपमानित किया जाता रहा है. रेप से ज्यादा, पुलिस की धमकियां और ज्यादतियां बर्दाश्त से बाहर हो गई थीं.
प्रसिद्ध डबिंग आर्टिस्ट भाग्यलक्ष्मी ने इस संबंध में फेसबुक पर एक पोस्ट किया है, जिसमें बताया गया कि एक पुलिस अधिकारी ने उस महिला से कथित तौर पर पूछा कि ‘उनमें से किसने तुम्हें सबसे ज्यादा आनंद दिया?’

पोस्ट में बताया गया है कि, ‘उसके पति के चार दोस्त उसे शहर के बाहर लेकर गए और वहां बारी-बारी से उस महिला के साथ बलात्कार किया. उनमें से एक शख्स एक राजनीतिक पार्टी में उच्च पद पर तैनात है.‘ उन्होंने लिखा है, ‘महिला ने बताया कि वह इतनी दर्द और सदमे में थी कि तीन महीनों के बाद अगस्त में अपने पति को आपबीती सुना पाई.‘

इसके बाद पति के जोर डालने पर उसने पुलिस में शिकायत की, तो पुलिस ने कथित रूप से उन चारों आरोपियों को थाने बुलाया और उलटा पीड़िता को ही प्रताड़ित करने के लिए कई अपमानजनक सवाल पूछा.

Gyan Dairy

भाग्यलक्ष्मी ने अपनी पोस्ट में लिखा है, ‘चूंकि उसने तीन महीने बाद शिकायत दर्ज कराई थी और इस वजह से अपना केस कमजोर होने की सोच कर और पुलिस द्वारा बार-बार अपमानित किए जाने की वजह से उसने अपना केस वापस ले लिया.

इस फेसबुक पोस्ट को कई लोगों ने साझा किया, जिसके बाद मुख्यमंत्री पिनारायी विजयन के दफ्तर ने इस मामले में संज्ञान लेते हुए कार्रवाई का वादा किया है. मुख्यमंत्री और केरल के पुलिस प्रमुख भी उस महिला से मिलेंगे.

Share