blog

लॉकडाउन: दो महीने बाद लौटी ‘बारात’, 14 दिन रहेंगे क्वारंटाइन

लॉकडाउन: दो महीने बाद लौटी ‘बारात’, 14 दिन रहेंगे क्वारंटाइन
Spread the love

नई दिल्ली। बिहार के बेगूसराय में शादी के लिए निकली बारात को लॉकडाउन के चलते दूल्हे समेत दुल्हन के घर में लगभग 60 दिन रुकना पड़ा। सरकारी इजाजत के बाद के बाद गुरुवार को यह 11 सदस्यीय बारात दुल्हन लेकर अपने घर लौट आई। हांलाकि घर पहुंचने के बाद बारातियों और दूल्हन को चौबेपुर गांव में 14 दिन के लिए क्वारंटाइन कर दिया गया है।

बेगूसराय जिले के चौबेपुर इलाके के हकीम नगर गांव के रहने वाले इम्तियाज की शादी 21 मार्च को बिहार के बेगूसराय की खुशबू के साथ हुई थी। 22 मार्च को जनता कर्फ्यू और फिर राष्ट्रीय लॉकडाउन के कारण ‘बारात’ वापस ही नहीं लौट सकी और दुल्हन के घर में रुक गई।

दूल्हे के पिता महबूब ने बताया कि हमने सभी हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क किया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। ऐसी स्थितियों में हम दुल्हन के घर पर रहने के लिए मजबूर थे। यह लड़की के परिवार पर एक अतिरिक्त बोझ था और हम जितना योगदान दे सकते थे, उतना हमने किया। अंत में दो दिन पहले हमने फिर से वरिष्ठ जिला अधिकारियों से संपर्क किया, जिन्होंने हमें यात्रा पास दिए और स्थानीय लोगों ने मिनी बस की व्यवस्था की। आखिरकार हमने 19 मई को बेगूसराय छोड़ दिया।

उन्होंने आगे कहा कि चौबेपुर के इंस्पेक्टर विनय तिवारी ने हमसे मुलाकात की और बिल्हौर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों की एक टीम द्वारा कोरोनावायरस के परीक्षण के लिए हमारे नमूने लिए गए। हमें 14 दिनों के लिए घर पर क्वारंटाइन में रहने के लिए कहा गया है।

बारात के साथ गए असलम ने कहा कि हमें इस बात का जरा सा भी अंदाजा नहीं था कि इस शादी के लिए जब हम अपने घरों से निकलेंगे तो हम कितनी मुश्किल में पड जाएंगे। हालांकि, हम वहां जितने दिन रहे दुल्हन के परिवार द्वारा हमें दिए गए प्यार और सत्कार को भी हम कभी नहीं भूलेंगे। इस दौरान लोगों ने दुल्हन के परिवार को राशन दिया और मदद की ताकि वे हम सभी को खिला सकें।

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *