मध्य प्रदेश : 5 साल की लड़की बनेगी 8 साल के लड़के की दुल्हन

मध्यप्रदेश के गुना जिले में एक व्यक्ति से तीन साल पहले भूलवश गाय के बछड़े की मौत के मामले में गांव की पंचायत ने सामाजिक बहिष्कार का दंश झेल रहे परिवार को वापस समाज में शामिल करने के नाम पर उसकी पांच साल की बच्ची का आठ साल के एक बच्चे से विवाह कराने का फरमान सुनाया है।

महिला का आरोप है कि पंचायत ने अब उसकी पांच साल की बच्ची की विदिशा जिले के हिसरबाद गांव में रहने वाले आठ साल के बच्चे जितेन्द्र बंजारा से जबरन शादी तय करा दी है। पंचायत ने महिला को समाज में वापस शामिल करने के बदले में उसकी बच्ची की शादी कराने और शादी में एक लाख रुपए देने का फरमान सुनाया है।

बच्ची की मां ने शुक्रवार को पंचायत के इस फैसले के बारे में अनुविभागीय दंडाधिकारी (एसडीएम) नीरज शर्मा से शिकायत दर्ज करा कर अपनी बच्ची का बाल विवाह रोकने की गुहार लगाई है। सूत्रों के मुताबिक आरोन विकास खंड अंतर्गत खिरियादांगी पंचायत के तारपुर गांव निवासी गीताबाई बंजारा ने अपने आवेदन में कहा है कि उसके पति जगदीश बंजारा ने तीन साल पहले उनके खेत पर गेहूं की फसल चर रहे गाय के बछड़े को पत्थर मार दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

Gyan Dairy

इसके बाद ग्रामीणों ने पंचायत बुलाकर इस परिवार का सामाजिक बहि़ष्कार कर दिया। उन्होंने इस बहिष्कार के चलते पूरे गांव का भंडारा करने के बाद गंगा स्नान भी कर लिया, इसके बाद भी परिवार को गांव के हैंडपंप से पानी नहीं भरने दिया जाता।

एसडीएम नीरज शर्मा ने बताया कि एक जांच टीम गांव भेजी गई है। महिला की शिकायत सही है। ग्रामीणों को बच्ची का बाल विवाह नहीं कराने की समझाइश दी जा रही है। इसके बाद भी अगर जबरन शादी कराई तो ग्रामीणों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी।

Share