मुंबई। सचिन वाजे की डायरी से खुले कई राज, जानने के लिए पढ़ें ये खबर

मुंबई: मुबई के पूर्व कमीश्‍नर परमबीर सिंह द्वारा महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख पर लगाये गये भ्रष्‍टाचार के आरोप के बाद लगातार सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं। उनके अनुसार, सचिन वाजे उनके लिए होटले से पैसों की उगाही करते थे। इस मामले में एनआईए ने सचिन वाजे की एक डायरी बरामद की है, जिसमें पैसों को कोड के रूप में लिखा है। हालांकि अब एनआईए की टीम इन कोड को डिकोड करने में लगी हुई है और डायरी से 11 करोड़ रुपये की वसूली के राज खुल गए हैं।

सूत्रों ने बताया कि वसूली मुंबई में हुक्का पार्लर बार से की गई है। डायरी में पार्लर के नाम के पहले एरिया, उसके बाद हुक्का पार्लर के नाम का पहला लेटर और आगे H या B लिखा है। इसके बाद पैसा लाख में है तो L और अगर हजारों में है तो K लिखा है। जैसे कोई हुक्का पार्लर अंधेरी में है और उसका नाम Heaven है और उसने 2 लाख दिया तो उसका कोड वर्ड है AHH2L लिखा है।

एनआईए ये पता लगाने की कोशिश कर रही है कि ये पैसे किसको किसको जाता था। एनआईए सू़त्रों के मुताबिक, मुंबई पुलिस के सीआईयू यूनिट में एनआईए ने जब सचिन वाज़े के कैबिन की तलाशी की थी तो इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स के साथ एक लगभग 200 पेज की डायरी मिली थी। इस डायरी में ज्यादातर लेन-देन का ब्यौरा कोड वर्ड में लिखा है।

बनाए गए हैं ये कोड वर्ड
लाख के लिए – L
हज़ार के लिए – K
इलाके के नाम का पहला लेटर
डांस बार के लिए – D
हुक्का पार्लर के लिए – H

फर्जी आधार से होटल में रूका था वाजे
वाजे ने ट्राइडेंट होटल में रुकने के लिए जिस फेक ID कार्ड का इस्तेमाल किया था, वो आधार कार्ड था। इसमें वाजे ने फोटो अपनी रखी जबकि नाम गलत था। यह होटल में 4 दिन 16 से 20 तारीख तक रुका और एंटीलिया विस्फोटक की साजिश रची। NIA ने सीसीटीवी फुटेज सीज किया है और उसका फर्जी आधार कार्ड भी बरामद कर लिया है।

Gyan Dairy

वॉल्वो की फोरेंसिक टीम कर रही है जांच
दमन से जब्त की गई वॉल्वो कार की फोरेंसिक टीम जांच कर रही है। इस जांच के दौरान गाड़ी से 2 बॉक्स, 3 जोड़े कपड़े, मोबाइल चार्जिंग, एक मास्क मिला है। फोरेंसिक की तीन टीम गाड़ी की जांच में जुटी है।

पुणे CFSL की टीम ठाणे पहुचीं है। शक है कि मनसुख की हत्या में इस वॉल्वो कार का इस्तेमाल किया गया होगा। कल रात को दमन से सीज की गई थी इस कार की एनआईए को भी तलाश थी।

 

Share