नीतीश की नई कैबिनेट : महागठबंधन से कहीं ज़्यादा ‘दागी’ और संगीन अपराध के आरोपियों से भरी है

भ्रष्टाचार की बात कहकर महागठबंधन तोड़ भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने वाले बिहार के सीएम नीतीश कुमार की नई कैबिनेट पर लोगों ने सवाल उठाना शुरू कर दिया है।

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक़, नीतीश की कैबिनेट में 76 फीसदी मंत्रियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। इस तरह 29 में से 22 मंत्री मंत्री आपराधिक मामलों में आरोपी हैं।

नीतीश की नई कैबिनेट कुछ दागी नहीं है। चुनाव वाचडॉग संस्था की तरफ से नीतीश सरकार पर एक रिपोर्ट जारी की गई है। इस रिपोर्ट के आकड़ें चौंकाने वाले हैं।

Gyan Dairy

रिपोर्ट आगे बताती है कि कैबिनेट के दो मंत्रियों के ख़िलाफ़ हत्या का प्रयास जैसे गंभीर मामले चल रहे हैं। इसके अलावा बाकी मंत्रियों के ख़िलाफ़ डकैती, धोखाधड़ी, और महिला हिंसा जैसे गंभीर मामले दर्ज हैं।

Share