उत्तराखंड के 11वें मुख्यमंत्री के रूप में पुष्कर सिंह धामी ने ली शपथ, ये विधायक बने मंत्री

देरहादून। उत्तराखंड के 11वें मुख्यमंत्री के रूप में पुष्कर सिंह धामी ने शपथ ली। देहरादून स्थित राजभवन पर राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। धामी के अलावा बीजेपी के सीनियर नेता सतपाल महाराज, हरक सिंह रावत, बंशीधर भगत, यशपाल आर्य, बिशन सिंह चुफाल, सुबोध उनियाल, अरविंद पांडेय, गणेश जोशी, धन सिंह रावत, रेखा आर्य और यतीश्वरानंद ने मंत्री पद की शपथ ली।

नए सीएम पुष्कर सिंह धामी ने छात्र राजनीति से मुख्यमंत्री कुर्सी तक लंबी छलांग लगाई है। नब्बे के दशक में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से छात्र राजनीति की शुरूआत कर निरंतर राजनीति सफर में आगे बढ़ते गए। प्रदेश की सियासत में नेतृत्व परिवर्तन से मुख्यमंत्री की दौड़ में पार्टी के दिग्गज नेताओं को पीछे छोड़ दिया।

सैन्य परिवार की पृष्ठभूमि से होने के कारण धामी ने राष्ट्रीयता, सेवा भाव व देश भक्ति को अपनाया। सरकारी स्कूल से प्राथमिक शिक्षा ग्रहण कर नब्बे के दशक में छात्र राजनीति शुरू की। वर्ष 1990 व 1999 तक एबीवीपी में विभिन्न पदों पर सक्रिय रहे। लखनऊ विश्वविद्यालय में छात्र के हित के मुद्दों को लेकर संघर्ष किया। राज्य गठन के बाद पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी के 2002 सलाहकार के रूप में काम किया।

Gyan Dairy

असंतुष्टों को मनाने में बीता दिन
बताया जाता है कि पुष्कर सिंह धामी शनिवार को ही मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले थे। लेकिन उनके नाम घोषणा होने से उत्तराखंड भाजपा के कई नेता असंतुष्ट हो गए थे। इसके चलते रविवार को शपथग्रहण समारोह का आयोजन हुआ। शपथ ग्रहण समारोह से पहले पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को अपना ज्यादातर समय अपनी पार्टी के असंतुष्ट नेताओं को मनाने में बिताया।

 

Share