दिल्ली में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच बढ़ा लॉकडाउन का खतरा, सत्येंद्र जैन ने कही बड़ी बात

नई दिल्ली। कोरोना ने एक बार फिर से रफ्तार पकड़ ली है। कोरोना के बढ़ते मामलों ने फिर से चिंता बढ़ा दी है। पिछले वर्ष के बाद कोरोना के मामलों में फिर से तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है। दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे संक्रमितों के आंकड़े रोज नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। इसे देखते हुए लोगों को फिर से लॉकडाउन का डर सताने लगा है।

कई राज्यों की सरकारों ने इसको देखते हुए सख्ती के साथ ही नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलानक कर दिया है। वहीं, इस बीच स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि दिल्ली में प्रतिदिन कोविड​​-19 के नए मामलों में वृद्धि लगातार जारी है। इस दौरान जब उनसे यह पूछा गया कि क्या दिल्ली में फिर से लॉकडाउन लगाया जा सकता है तो उन्होंने कहा कि लॉकडाउन बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए कोई समाधान नहीं है।

उन्होंने स्पष्ट किया की अभी लॉकडाउन की कोई संभावना नहीं है। पहले ही लॉकडाउन लग चुका है और तब इसके पीछे एक तर्क था। उस समय, किसी को नहीं पता था कि वायरस कैसे फैलता है, तब यह कहा गया था कि संक्रमण होने और इसके खत्म होने का 14 दिनों का चक्र है।

Gyan Dairy

उस समय विशेषज्ञों ने कहा कि यदि 21 दिनों तक सभी गतिविधियां बंद रहती हैं, तो वायरस फैलना बंद हो जाएगा। उसके बाद भी लॉकडाउन का विस्तार होता रहा, लेकिन इसके बावजूद कोरोना वायरस फैलना बंद नहीं हुआ। मुझे लगता है कि लॉकडाउन कोई समाधान नहीं है।

 

Share