शिवपाल यादव ने कहा, हमारी सरकार में जो काम 100 रुपये में हो जाता था, अब उसी काम के लिए लगते हैं 10 हजार

गोंडा. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल यादव अक्सर अपने विवादित बयानो की वजह से सुर्खियों में बने रहते हैं. आज एक सभा के दौरान उन्होने ऐसा बयान दिया कि अब वही हसी का पात्र बन गये हैं, सोशल मीडिया पर लगातार वो वीडियो वायरल हो रहा है. भाजपा सरकार के 100 दिनों में भ्रष्टाचार को खत्म करने के दावों पर चुटकी लेते हुए शिवपाल ने अपने बड़बोले पन में कहा कि सपा सरकार मे जो काम 100-500 रुपये या एक हजार रुपये मे काम हो जाता था. आज दारोगा 10 हजार रुपये से नीचे बात नहीं करता. शिवपाल यहीं नही रुके उन्होंने कहा कि अगर झूठी रिपोर्ट हटवानी हो तो 50 हजार से एक लाख रुपए लगते हैं.

शिवपाल ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर है. इस सरकार में मंत्रियों विधायकों की सिफारिश तक नहीं सुनी जा रही है. सिफारिश के बाद भी पुलिस रुपये ले रही है. हमारे शाशन में ब्लॉक स्तर के नेता के द्वारा भी काम हो जाया करता था. वहीं शिवपाल यादव लव जेहाद के खिलाफ कानून के पक्ष में दिखे. शिवपाल यादव गोंडा के इटियाथोक में स्वागत समारोह में शामिल हुए थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश की स्थिति से आप सभी परिचित हैं. सरकार की नीतियों से सब लोग दुःखी हैं. सरकार का हर फैसला न देशहित में है और न जनता के हित के लिए है.

Gyan Dairy

उन्होंने कहा कि आज का किसान आत्महत्या कर रहा है, क्योंकि महंगाई तो बढ़ रही है. लेकिन किसान द्वारा पैदा की गई फसल के दामों में अभी तक कोई भी बढ़ोतरी सरकार नहीं कर पाई है. शिवपाल ने बीजेपी सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि इस सरकार में थानों में तहरीर देने और मुकदमा पंजीकृत करने के लिए अलग-अलग रकम की डिमांड होती है. पूर्व में जब समाजवादी पार्टी की सरकार थी तो अधिकारी जनता का काम करते थे.

Share