तीन विषयों में फेल स्टूडेंट्स के लिए जगी उम्मीद, मिल सकता है एक और मौका

बिहार बोर्ड उन छात्रों को दोबारा मौका देने के बारे में सोच रहा है जो इंटरमीडिएट परीक्षा में तीन विषयों में फेल हो गए है . बताया जा रहा है कि  फेल छात्रों का सात सदस्यों का प्रतिनिधिमंडल माध्यमिक शिक्षा निदेशक राजीव रंजन से मिला . सूत्रों के मुताबिक प्रतिनिधिमंडल को यह आश्वासन मिलने के बाद वार्ता खत्म हुई .

सूत्रों के मुताबिक प्रतिनिधिमंडल की मांग थी कि तीन विषयों में फेल छात्रों को कम्पार्टमेंटल परीक्षा का मौका दें साथ ही परीक्षा की फीस माफ़ कर दिया जाए . माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने फीस माफ़ी पर अपनी असमर्थता जताते हुए दोबारा परीक्षा दिलवाने का आश्वासन दिया है.

पूर्व में केवल उन छात्रों को ही कम्पार्टमेंटल परीक्षा का मौका मिलने की बात कही जा रही थी कि जो एक या दो विषयों में फेल थे . ऐसे में इस आश्वासन के बाद उन छात्रों को राहत मिलने की उम्मीद है जो छात्र तीन विषयों में फेल हो गए थे और उनके पास अगले साल परीक्षा देने के अलावा कोई चारा न था .

Gyan Dairy

बहरहाल बोर्ड ने स्क्रूटनी के आवेदन की प्रक्रिया 3 जून से शुरू कर दी है जिसकी आखरी तारीख 12 जून निश्चित की गयी है . प्रतिदिन जिलों के क्षेत्रीय कार्यालय में स्क्रूटनी के लिए आवेदन जमा किये जा रहे है. छात्रों के सहूलियत के लिए बोर्ड ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीको से आवेदन ले रहा है गौरतलब है कि इस वर्ष इंटरमीडिएट की परीक्षा में दो तिहाई छात्र फेल हो गए है . जिसके बाद छात्र प्रतिदिन बोर्ड कार्यालय के बाहर हंगामा कर रहे है. जिसको नियंत्रित करने लिए पुलिस को बल प्रयोग भी करना पड़ रहा है . वहीँ इस वर्ष का फर्जी आर्ट्स टॉपर गणेश कुमार पुलिस के हिरासत में है .

Share