बड़ा खुलासा- तेजस्वी ने नियमों को ताक पर रख, दिया सलाहकार को तीन लाख किराए का बंगला

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव  छाए हुए हैं। वजह नीतीश कुमार का गठबंधन तोड़ना नहीं बल्कि अपने परामर्शी (एडवाइजर) और भारतीय प्रशासनिक सेवा के रिटायर अधिकारी सुधीर कुमार को दिल्ली में तीन लाख रुपये महीने वाला बंगला किराए में देना है। सूत्रों की मानें तो तेजस्वी द्वारा दिए इस बंगले में आज भी सुधीर रहते हैं।

दिल्ली में गेस्ट हाउस देने के लिए पत निर्माण विभाग की प्रक्रिया लगभग तीन साल पहले शुरु हुई थी। उन दिनों जीतनराम मांझी बिहार के मुख्यमंत्री हुआ करते थे। पथ निर्माण विभाग ने बिहार भवन को लिखा था कि एशियाड विलेज में बिहार सरकार का एक अपार्टमेंट है, वह विभाग को गेस्ट हाउस के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

यह पहली बार जब किसी विभाग के परामर्शी को दिल्ली के पॉश इलाके वसंत विहार मे इतना महंगा आवास सपरिवार रहने के लिए आधिकारिक तौर पर  दिया गया हो। जबकि सुधीर कुमार को तेजस्वी यादव ने बिहार में एक बड़ा सरकारी बंगला दे रखा है इसके बावजूद उन्हें एक और बंगला दिया गया। नीतीश कुमार के महागञबंधन को तोड़ने के बाद खबर आ रही है कि पथ निर्माण विभाग के परामर्शी जल्द ही अपना भी पद छोड़ देंगे।

जब सुधीर कुमार ने पथ निर्माण विभाग के परामर्शी का  पद-भार संभाला तो विभाग की ओर एक प्रस्ताव आया कि परामर्शी के लिए दिल्ली में एक आवास की व्यवस्था सरकार के स्तर से की जाए। जब  सीएम के पास पहुंची तो उन्होंने कहा कि विभाग इस संबंध में अपने स्तर पर निर्णय ले।

Gyan Dairy

खबर है कि एशियाड विलेज वाले अपार्टमेंट में उन दिनों बिहार के एक वीआइपी के परिजन रहते थे। इसलिए इस प्रस्ताव को अनुमति नहीं मिली और यह निश्चित हुआ कि पथ निर्माण विभाग दिल्ली में एक किराये का मकान लें। वह आवास पथ निर्माण विभाग के लायजनिंग ऑफिस के रूप में काम करें। ताकि जब कोई विभाग का इंजीनियर विभाग के काम से आए तो वहां गेस्ट हाउस की सुविधा भी मिले। इस निर्णय के बाद बसंत विहार इलाके में दो फ्लोर वाला एक बंगला किराये पर ले लिया गया।

इसके बाद ही शुरु हुआ पूरा खेल और  पथ निर्माण विभाग में उच्च स्तर पर यह फैसला हुआ कि दिल्ली में वसंत विहार वाले गेस्ट हाउस का एक फ्लोर सुधीर को दिया जाए। जिसके बाद ही  सुधीर कुमार परिवार सहित दिल्ली के वसंत विहार वाले इलाके में स्थित बंगले में शिफ्ट कर गए।

Share