UA-128663252-1

गोल्डन बुक ऑफ द अर्थ में 50 देशों के राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के साथ विश्व के 51 विशिष्ट व्यक्तियों को किया गया शामिल

गोल्डन बुक ऑफ द अर्थ में 50 देशों के राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के साथ विश्व के 51 विशिष्ट व्यक्तियों को किया गया शामिल

18 को ज़ूम एप्प पर होगा वेबिनार , भाग लेंगे अलग अलग देशों के प्रतिनिधि

स्वर्ण भारत परिवार के अथक प्रयास से अन्तराष्ट्रीय बुक एजेंसी को भारतीय मूल के विशेष व्यक्तियों की जीवनी लिखने व ग्लोबल बुक ऑफ द अर्थ में शामिल करने हेतु तैयार करने में सफल रहा है । ग्लोबल बुक ऑफ अर्थ में शामिल किए जाएंगे विशिष्ट व्यक्ति, अंतराष्ट्रीय बुक पब्लिशर प्रूडेंस पेन लॉंच करने जा रहा है द मोस्ट इंस्पायरिंग पीपल ऑफ अर्थ जहां लिखी जाएगी पृथ्वी के सबसे प्रेरणादायक लोगो की कहानियाँ जो आपके झकझोर देंगी और सोचने को मजबूर कर देंगी के क्या वाकई मे आप अपने इंसान होने का फर्ज़ निभा रहे है या नहीं, आपके धरती पर जन्म लेने के उद्देश्य को पूरा करेगी गोल्डेन बुक ऑफ द वर्ल्ड। आज से अंतराष्ट्रीय स्तर पर ऐसे प्रेरणादायक लोगो की खोज शुरू हुई है, जिन्होंने अपने कार्यों से आमजनमानस के जीवन मे बहुआयामी बदलाव लाने में मदद की है, सभी चयनित 101 इंफ्लुएंसर्स को द मोस्ट इंस्पायरिंग पीपल ऑफ अर्थ अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा,और उनकी इंस्पायरिंग सक्सेस स्टोरीज को प्रूडेंस पेन द्वारा पब्लिश किया जाएगा जो अंतराष्ट्रीय बुक सेलिंग प्लेटफार्म अमेजॉन द्वारा वैश्विक स्तर पर लांच की जाएगी। यूरोप, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, एशिया, आदि द्वीपों से इंस्पायरिंग व्यक्तियों को स्थान दिया जाएगा , पीस मेकर्स, हुमिनिटेरियन, महिला एंटरप्रेन्योर,हाउस वाइफ,लीडर्स,प्रशासनिक अधिकारियों सहित सोशल एक्टिविस्ट व एंटरप्रेन्योरशिप को बढ़ावा दे रहे युवाओं,व अपने अनुभवों से युवाओं को प्रेरित करने वाले वरिष्ठजनों को कार्यक्रम में तरजीह देने की बात कही जा रही है ।

Gyan Dairy

इस कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही व्यापक रूप से प्रतिक्रियाये आनी शुरू हो गई हैं, केन्द्रीय मंत्री श्री नितिन गडकरी एवं मंत्री रवि शंकर प्रसाद जी व सोनू सूद की जीवनी इस गोल्डेन बुक ऑफ द वर्ल्ड के माध्यम से जानने को मिलेगी , स्वर्ण भारत परिवार मीडिया प्रभारी संतोष पांडेय ने कहां कि वैष्विक स्तर पर सर्वे करके करीब 50 देशों के प्रधानमंत्री,व राष्ट्रपतियों को , उनके द्वारा किये जा रहे इस विषम परिस्थियों में भी अद्भुत कार्यों की वजह से गोल्डन बुक ऑफ द अर्थ में जीवनी संकलित की जा रही है।

Share