ससुराल वाले पत्नी की नहीं कर रहे थे विदाई, पति ने DM को सुनाई फरियाद, जानें फिर क्या हुआ

गोरखपुर। प्रेम विवाह के बाद मायके गई पत्नी को घर वाले जबरन अपने कब्जे में रखे हुए थे। कई बार अनुरोध करने के बाद विदा न करने से परेशान पति ने तहसील दिवस पर जिलाधिकारी गोरखपुर से शिकायत की। जिलाधिकारी के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने पत्नी को पति से मिलवाया। इसके बाद रविवार को थाने से ही उसकी विदाई करा दी।

तहसील दिवस पर जिलाधिकारी को दिए शिकायती पत्र में आजमगढ़ के अतरौलिया थाना क्षेत्र के कोइलसा गांव निवासी हरिओम सोनकर पुत्र संतराम ने कहा है कि हम पति-पत्नी बालिग हैं। हमने स्वेच्छा से 28 अगस्त 2019 को आजमगढ में हिन्दू रीति रिवाज से शादी की थी। शादी के कुछ दिन बाद पत्नी मोना सोनकर पुत्री किशन सोनकर निवासी चिल्लूपार कस्बा बड़हलगंज को उसकी मां विदा कराकर मायके ले गयी। इसके बाद मायके पक्ष ने उसे जबरन अपने घर पर रोक लिया और विदा करने से इंकार कर रहे हैं।

Gyan Dairy

जिलाधिकारी के निर्देश पर कोतवाली प्रभारी मनोज कुमार राय ने दोनों पक्षों को कोतवाली बुलाया। बातचीत के बाद मोना सोनकर ने अपने पति के साथ जाने पर सहमति दी तो प्रभारी निरीक्षक ने उनके परिजनों के सामने दोनों को थाने से विदा करा दिया।

Share