नरेन्द्र मोदी UP में 2 महीने में 8 रैलियां करेंगे

आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर भाजपा ने कमर कस ली है। राज्य में अपने पक्ष में माहौल बनाने के लिए भाजपा ने ताबड़तोड़ रैलियों और जोरदार अभियान की रणनीति बनाई है। भाजपा यूपी में चार परिवर्तन यात्राएं चलाएगी और इसके साथ ही साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कई रैलियां कराई जाएंगी। भाजपा अगले दो महीने (नवंबर और दिसंबर) में मोदी की कम से कम 8 रैलियां करवाने की तैयारी में है।

12

ये दिग्गज नेता रहेंगे मौजूद
बताया जा रहा है कि इन यात्राओं में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और केन्द्रीय सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री कलराज मिश्र शामिल होंगे जबकि प्रदेश भाजपा अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य प्रत्येक स्थान पर मौजूद रहेंगे। परिवर्तन यात्राओं में स्थानीय सांसद, विधायक एवं नेताओं की शिरकत अनिवार्य होगी।  नवंबर- दिसंबर के दौरान प्रधानमंत्री की कम से कम 8 रैलियां आयोजित करने का कार्यक्रम बनाया जा रहा है। ये रैलियां उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में होंगी।

केशव प्रसाद मौर्य की भूमिका सबसे अहम
उत्तर प्रदेश में पार्टी के चुनाव अभियान में प्रदेश अध्यक्ष मौर्य की भूमिका सबसे अहम रहेगी। इस बीच आज देर शाम को वित्त मंत्री अरुण जेटली के निवास पर उत्तर प्रदेश में पार्टी प्रचार अभियान को लेकर एक बैठक हुई जिसमें पार्टी अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद थे। सूत्रों के अनुसार उत्तर प्रदेश सहित 5 राज्यों में चुनावी प्रचार अभियान के काम के लिए विभिन्न एजेंसियों को ठेके देने की प्रक्रिया से शुरू होने जा रही है। उम्मीद है कि दीपावली के पहले ही पार्टी के प्रचार की धार जमीन पर दिखायी देने लगेगी

मोदी के नाम पर जुटती है भीड़

Gyan Dairy

इसमें कोई दो राय नहीं है कि भाजपा के लिए नरेन्द्र मोदी एक ब्रांड एंबेसडर से कम नहीं हैं। उनके नाम पर रैलियों में भारी भीड़ अपनेआप जुट जाती है। इसी वजह से पार्टी उत्तर प्रदेश में नरेन्द्र मोदी का इस्तेमाल एक बार फिर करना चाहती है। लेकिन, अभी मोदी की चुनावी रैलियों की संख्या को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है।


rush-modi-photos

24 दिसंबर को लखनऊ में होगी बड़ी रैली

बीजेपी सूत्रों के मुताबिक, अभी सभी रैलियों की तारीखें फाइनल नहीं हो पाई हैं लेकिन यह तय है कि परिवर्तन यात्राओं के समापन पर 24 दिसंबर को लखनऊ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बड़ी रैली कराई जाएगी। इसी तरह एक रैली बुन्देलखंड, जबकि एक रैली सहारनपुर में प्रस्तावित है।images-2

Share