SP के बाद BSP सुपीमो मायावती ने भी खेला ब्राह्मण कार्ड, किया यह बड़ा दावा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों को लुभाने में सभी पार्टियां लगी हुईं हैं। कांग्रेस, सपा के बाद अब बहुजन समाज पार्टी भी इस मैदान में उतर आयी है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने इसको लेकर बड़ा बयान दिया है। इसके साथ ही सपा पर जोरदार हमला किया है। बसपा मुखिया ने समाजवादी पार्टी की ब्राह्मणवाद की सियासत पर हमला बोला है।

मायावती ने कहा कि किसी भी महापुरुष को लेकर राजनीति नहीं होनी चाहिए, वह किसी की जागीर नहीं होते हैं। लोग अपने कर्म से महापुरुष का दर्जा पाते हैं। मायावती ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश में अगर 2022 में बसपा की सरकार बनती है तो ब्राह्मण समाज की आस्था के प्रतीक परशुराम और सभी जातियों के महान संतों के नाम पर अस्पतालों व सुविधायुक्त ठहरने के स्थानों का निर्माण कराया जाएगा।

उन्होंने कहा कि सरकार में सभी वर्गों के महान संतों के म पर अनेक जनहित योजनाएं शुरू की गई थीं जिसे बाद में आई सपा सरकार ने जातिवादी मानसिकता व द्वेष की भावना के चलते बदल दिया।

Gyan Dairy

 

Share