आगरा: मां-बाप और बेटे की निर्मम हत्या, घर में ही शवों को जलाने की कोशिश, कानून व्यवस्था पर उठे सवाल

आगरा। उत्तर प्रदेश में अपराधियों ने चौतरफा तांडव मचाया हुआ है। वह लगातार बेखौफ होकर वारदात कर रहे हैं। वारदात कर वह आसानी से फरार हो जा रहे हैं लेकिन पुलिस अपराधियों तक नहीं पहुंच पा रही है। वहीं, कानून व्यवस्था को दुरूस्त रखने का दंभ भरने वाले पुलिसकर्मी सिर्फ कागजों में ही दावे कर रहे हैं।

पुलिस की नाकामी के कारण आगरा में एक सनसनीखेज वारदात हुई, यहां पर बदमाशों ने मां—बाप और इकलौते बेटे की निर्मम हत्या कर दी और उनके शवों को घर में जलाने का प्रयास किया।

हत्यारों ने तीनों के मुंह पर टेप भी लगाया था। सोमवार सुबह इसकी जानकारी हुई तो हड़कंप मच गया। मृतकों में रामवीर (55 साल), उनकी पत्नी मीरा और 22 वर्षीय इकलौता बेटा बबलू हैं। रामवीर मकान में ही परचून की दुकान चलाते थे। रविवार शाम को ही वो ससुराल से लौट कर आए थे। सोमवार सुबह तकरीबन साढ़े छह बजे पड़ोस के लोग उनकी दुकान से सामान लेने आए। दुकान बंद मिली।

Gyan Dairy

उन्होंने आवाज लगाई, लेकिन घर से कोई जवाब नहीं मिला। लोगों ने घर के अंदर झांका देखा तो धुआं निकल रहा था। अनहोनी की आशंका पर पड़ोस के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची थाना पुलिस ने किसी तरह घर का दरवाजा खोला। पुलिसकर्मी घर के अंदर गए तो मंजर देखकर सन्न रह गए।

 

Share