किसान आंदोलन पर बोले अखिलेश, ऐ ज़ुल्मी हाकिम तू किस-किस को नजरबंद करेगा!

लखनऊ। किसान आन्दोलन के समर्थन में सपा प्रमुख अखिलेश यादव कन्नौज जाने वाले थे लेकिन योगी सरकार की पुलिस ने उन्हे पहले रोक दिया. वो प्रदर्शन करने निकले तो उन्हे हिरासत में ले लिया गया. इस बीच सपा प्रमुख ने ट्वीट कर बीजेपी सरकार पर निशाना साधा. सपा प्रमुख ने कहा कि जहां तक जाती नज़र वहां तक लोग तेरे ख़िलाफ़ हैं. ऐ ज़ुल्मी हाकिम तू किस-किस को नजरबंद करेगा!

किसान आंदोलन को दबाने की कोशिश
समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता सुनील सिंह साजन ने कहा कि किसानों के आंदोलन को पूरे देश में बल के आधार पर दबाया जा रहा है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने किसानों के आंदोलन को समर्थन दिया है. इसी क्रम में 7 दिसंबर से अनवरत समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता किसानों के पक्ष में सड़क पर रहेंगे. 7 दिसंबर को अखिलेश यादव को कन्नौज जाना था, लेकिन उन्हें अलोकतांत्रिक तरीके से रोक कर हाउस अरेस्ट किया गया है. क्रांतिकारियों ने अंग्रेजों को भी देखा है. इस घमंड वाली सरकार को समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता चूर चूर कर देंगे. हमारे नेता किसानों के साथ हैं और हम किसानों के मुद्दे पर सदन से सड़क तक लड़ते रहेंगे.

Gyan Dairy

कमिश्नर बोले- किसी को नजरबंद नहीं किया
अखिलेश यादव की नजरबंदी पर पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने कहा कि किसी को नजरबंद नहीं किया गया है. डीएम कन्नौज ने प्रस्तावित कार्यक्रम को निरस्त करने का आग्रह किया था. इस बाबत डीएम ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के निजी सचिव को पत्र भी भेजा था. COVID-19 गाइडलाइंस और धारा 144 की वजह से कार्यक्रम निरस्त करने को कहा गया है. डीएम कन्नौज के पत्र की वजह से अखिलेश यादव को कन्नौज जाने से रोका गया है.

Share