3500 करोड़ के बाइक बोट घोटाले का आरोपी बीएन तिवारी गिरफ्तार, लाइव टुडे चैनल का है मालिक

लखनऊ। बहुचर्चित बाइक बोट घोटाले में फरार चल रहे 50 हजार रुपये के इनामी बीएन तिवारी को एसटीएफ ने गुरुवार को गोमती नगर विस्तार इलाके से गिरफ्तार किया। बाइक बोट घोटाले का आरोपी बीएन तिवारी लाइव टुडे न्यूज चैनल का मालिक भी बताया जा रहा है।ईओडब्ल्यू की मेरठ इकाई बाइक बोट घोटाले की जांच कर रही थी। ईओडब्ल्यू की मेरठ ईकाई ने जांच में दोषी पाये जाने पर बीएन तिवारी की गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ से सहयोग मांगा था। ईओडब्ल्यू ने गत एक फरवरी को लखनऊ में गोमती नगर थाना क्षेत्र स्थित बीएन तिवारी के आवास की कुर्की की थी। बीएन तिवारी को भी इस घोटाले में अहम कड़ी माना जाता है, जिसने अपने लखनऊ में बनाए गए संबंधों का लाभ इस ठग कंपनी को दिलवाया था।

निवेशकों का दावा है कि ई-बाइक लांचिंग के लिए बाइक बोट कंपनी से तिवारी को 25 करोड़ रुपये दिए गए। लांचिंग के दौरान दिल्ली के बड़े अधिकारी को भी बुलाया गया। इससे नए लोगों का कंपनी में विश्वास बढ़ गया और दिल्ली-एनसीआर के बड़ी संख्या में लोगों ने कंपनी में रुपया निवेश कर दिया। फर्जीवाड़े की रकम को खपाने में भी उसकी भूमिका रही है। इसमें बीएन तिवारी के अलावा घोटाले के मुख्य आरोपी संजय भाटी की पत्नी दीप्ती बहल, भूदेव, लोकेन्द्र, वीरेश भाटी और बिजेन्द्र हुड्डा शामिल थे। अक्तूबर 2020 में संजय भाटी और उनके दोनो भाइयों सचिन भाटी व पवन भाटी समेत 15 आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट लगाया गया था।

Gyan Dairy

 

Share