योगी सरकार बनते ही UP में पहली बड़ी वारदात, BSP के बड़े नेता को सरेआम मारी गोली

इलाहाबाद : यूपी में बीजेपी की सरकार बनते ही इलाहाबाद में पहली बड़ी वारदात हुई है। योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के कुछ ही घंटे के बाद इलाहाबाद में एक बसपा नेता मो. शमी की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। उन्हें इलाहाबाद के मउआइमा में बाइक सवार बामदशों ने गोली मारी, जिसके बाद मौके पर ही उनकी मौत हो गयी। सूचना के बाद स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंच गयी और आलाधिकारी भी घटना स्थल के लिये रवाना हो गए। मो. शमी ने यूपी चुनाव के ठीक पहले सपा छोड़कर बसपा का दामन थाम लिया था।

बताया गया है कि मउआइमा के रहने वाले पूर्व ब्लॉक प्रमुख और अब बसपा नेता मो. शमी मुख्य चैराहे के पास पेट्रोप पम्प के नजदीक थे। रविवार की रात तकरीबन साढ़े नौ बजे दो बाइक सवार अज्ञात बदमाश वहां पहुंचे और उन पर अंधाधुन फायरिंग कर दी। उन्हें एक के बाद एक पांच गोलियां मारी गयीं। मो. शमी की मौके पर ही मौत हो गयी। मो. शमी ने यूपी चुनाव में ऐन मौके पर समाजवादी पार्टी का दामन छोड़ दिया था। उन्होंने कई बीडीसी और कई ग्राम प्रधानों के साथ बहुजन समाज पार्टी का दामन थाम लिया था और वहां की बसपा प्रत्याशी गीता पासी का समर्थन किया था। यह सपा के लिये बड़ा झटका भी माना गया था।

Gyan Dairy

इस हत्या को चुनावी रंजिश से जोड़कर भी देखा जा रहा है। हालांकि अभी घटना को लेकर कोई बात सामने नहीं आयी है, पर यूपी चुनाव से उनकी हत्या को न सिर्फ जोड़कर देखा जा रहा है बल्कि इसको लेकर चर्चा भी जुबान जद है।

Share