कोरोना लॉकडाउन: ‘आगरा मॉडल’ को लेकर विपक्ष ने योगी सरकार को घेरा, अखिलेश-प्रियंका का हमला

लखनऊ। कोरोना संकट को लेकर जहां यूपी के आगरा मॉडल की तारीफ हो रही थी वहीं अब आगरा मॉडल पर आरोप लगने का सिलसिला बढ़ता चला जा रहा है। हाल ही में आगरा के भाजपा मेयर ने सीएम से आगरा को कोरोना संकट से बचाने की गुहार लगाई थी साथ ही उन्होने आगरा के आलाधिकारियों पर कालाबाजारी के भी आरोप लगाये थे। अब विपक्ष ने भी आगरा मॉडल को लेकर योगी सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। ​जहां प्रियंका गांधी ने भाजपा मेयर द्वारा सीएम को लिखे पत्र को ट्वीट करते हुए सरकार को इसे सकारात्मक भाव से लेने को कहा था वहीं वहीं कल क्‍वारेंटाइन सेंटर में फैली अव्यवस्था की तस्वीरें वायरल हुईं तो अखिलेश यादव ने भी सरकार पर तंज कसे हैं।

दरअसल पहले मेयर द्वारा सीएम को पत्र लिखा गया तो आगरा की पूरी पोल पट्टी खुल गयी, इसके बाद कल आगरा-दिल्ली हाईवे पर स्थित एक क्‍वारेंटाइन सेंटर में आइसोलेट लोगों के साथ अछूतों जैसा व्यवहार देखने को मिला तो बची कुसी कसर और पूरी हो गयी। वीडियो वायरल होने के बाद जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने सीडीओ को जांच करने के आदेश दिए हैं। जिसके बाद प्रदेश की सियासत तेज हो गई है। मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के बाद अब सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला है।


अखिलेश यादव ने ट्वीट में लिखा है, “मुख्यमंत्री द्वारा बहुप्रचारित कोरोना से लड़ने का ‘आगरा मॉडल’मेयर के अनुसार फ़ेल होकर आगरा को वुहान बना देगा. न जांच, न दवाई, न अन्य बीमारियों के लिए सरकारी या प्राइवेट अस्पताल, न जीवन रक्षक किट और उस पर क्वॉरेंटाइन सेंटर्स की बदहाली प्राणांतक साबित हो रही है। जागो सरकार जागो!”

प्रियंका ने भी उठाए सवाल

Gyan Dairy

इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मेयर नवीन जैन के पत्र का हवाला देते हुए आगरा मॉडल पर सवाल खड़े किए थे. उन्होंने ट्वीट किया, “आगरा शहर में हालात खराब हैं और रोज नए मरीज निकल रहे हैं। आगरा के मेयर का कहना है कि अगर सही प्रबंध नहीं हुआ तो मामला हाथ से निकल जाएगा. कल भी मैंने इसी चीज को उठाया था. पारदर्शिता बहुत जरूरी है। टेस्टिंग पर ध्यान देना जरूरी है। कोरोना को रोकना है तो फोकस सही जानकारी और सही उपचार पर होना चाहिए। सरकार द्वारा आगरा मेयर की बातों को सकारात्मक भाव से लेना और तुरंत पूरी तरह से आगरा की जनता को महामारी से बचाने का प्रयास करना महत्वपूर्ण है।”

Share