भाजपा के नये डिप्टी सीएम का आपराधिक इतिहास, दर्जन भर से ज्यादा दर्ज हैं मुकदमें

वाराणसी : यूपी विधानसभा चुनाव 2017 में मिले जोरदार बहुमत का श्रेय केशव प्रसाद मौर्य को भी दिया जा रहा है। केशव प्रसाद मौर्य को उप मुख्यमंत्री बनाकर पार्टी उन्हें भारी जीत का इनाम दिया है।
वहीं केशव प्रसाद मौर्य की छवि के बारे में कहा जाए तो इन पर आपराधिक मामलों के कई आरोप लगे हैं लेकिन उन्हें अब तक सिद्ध नहीं किया जा सका है। भारतीय जनता पार्टी के नवनियुक्त उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य फूलपुर संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं और बीते दिनों में 18 वर्षों तक विश्व हिंदू परिषद के संघ प्रचारक रहे हैं। फूलपुर संसदीय क्षेत्र से ये पहले हिस्ट्रीशीटर नहीं हैं जो सदन के लिये यहां की जनता द्वारा भेजे गये।

केशव प्रसाद ने चुनाव लड़ने का सफर इलाहाबाद शहर पश्चिमी विधान सभा सीट से वर्ष 2002 में शुरु किया। उस समय बसपा के राजू पाल से चुनाव हार गये थे। 2007 में पुनः इसी सीट पर चुनाव लड़े और हार गये। 2012 में इन्होंने अपना क्षेत्र बदल दिया और सिराथू विधान सभा से अखिकार जीत हासिल कर लिये। इस पद पर 2 वर्ष रहने के बाद मोदी लहर की सम्भवना देखते हुए फूलपूर से संसदी में भाग्य आजमाया और भारी सफलता प्राप्त हुई। तबसे लेकर ये फूलपुर के सांसद रहे।<

दबंग व आक्रामक तेवर के लिये जाने जाते है केशव प्रसाद मौर्य
मौर्या की छबि दबंग नेता की है। भाजपा पार्टी अध्यक्ष को भी बहुत लोगांे में इसी मिजाज के नाते जाना जाता है। सम्भव है प्रदेश में भाजपा लक्ष्मीकांत बाजपेयी के सरल स्वभाव को कहीं अपनी कमीं महसूस कर रही थी।kpm अब सम्भव है कि पार्टी कद्दावर के साथ साथ अपने दबंग व आक्रामक तेवर से श्री मौर्य के प्रति आश्वस्त हो सकती है कि यूपी भाजपा में नयी उर्जा का संचार करेंगे और मिशन यूपी का लक्ष्य भेद सकेंगे। वैसे अभी तकनवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्या केखिलाफ तक़रीबन एक दर्जन आपराधिक मामले दर्ज है।

Gyan Dairy

जिनमे हत्या, धोखाधड़ी और दंगे फ़ैलाने के अलावा सरकारी कर्मचारी को धमकी देने जैसे गंभीरमामले शामिल हैं ।निर्वाचन आयोग को दिए गए अपने हलफनामे में केशव प्रसाद मौर्या ने खुदके खिलाफ चल रहे मामलों की जो फेहरिस्त दी है उससे पता चलता है कि कौशाम्बी जिलेके पश्चिम शरीरा, पडंसा,कोखराज,मंझनपुर के अलावा इलाहबाद जनपद के कर्नलगंज औरजार्जटाउन में केशव मौर्या के खिलाफ कुल 11 मामले लंबित है जो अलग अलग अदालतों मेंचल रहे हैं।हांलाकि किसी भी मामले में उन्हें अभी अपराधी घोषित नहीं किया गया है|केशव प्रसाद मौर्या के खिलाफ हत्या का मुकदमा 2014 में दर्ज किया गयाहै जिसकी सुनवाई कौशाम्बी सेशन कोर्ट में नियमित तौर पर हो रही है| केशव मौर्याकौशाम्बी में ही धोखाधड़ी के एक मामले में मुकदमा झेल रहे हैं।

केशव मौर्या का आपराधिक इतिहास
Serial No. IPCSections Applicable Other Details / OtherActs / Sections Applicable

  • 143,188,283,341 Special CJM, Allahabad Case NO.703/2004Criminal Case NO.177/2003 Date of Cog.-25/03/2004
  •  302,120B Section 7 C. L.A. Act, Criminal Case No.470/11, PS.- Kokhraj,Janpad-Kaushambi, UP, CJM, Kaushambi, Date of Cog.-07/11/2013Present Pending in Additional District and Sessions Judge II Kaushambi, ST No.37/2014
  •  153A,188 Criminal Case No.571/11,PS.-Kokhraj, Kaushambi, UP
  •  147,148,153,153A,352,188,323,504,506 Section 7 C.L.Act, PS.-Manjhanpur,Kaushambi, UP, CJM , Criminal Case NO.218/11, Case No.2187/2012,Cog. Date 07.05.2012
  • 147,295A,153A Criminal Case No.82/08,PS.-Mohd.pur Paisa, Kaushambi, UP, CJM Kaushambi, Case No.1281/2002,Cog. Date 05/12/2008
  • 420,467,465,171,188 Criminal Case No.83/08,PS.-Mohd.pur, paisa, Kaushambi, UP, CJM Kaushambi Case No.2715/08,Date of Cog.-24/11/2008
  • 147,352,323,504,506,392 Criminal Case No.72A/2013,PS.-Manjhanpur, Kaushambi, UP
  • 153A,353,186,504,147,332 Section 7 C. L. A. Act, PS.-PashchimVihar, Kaushambi, UP Criminal Case No.77/96
  • 147,323,504,427,353,506,380 Section 3/5Prevention of Public Property Damage Act and Section 7 C. L.A. Act, PS.-Karnalganj, Allahabad, UP Criminal Case No.431/98,Special CJM Allahabad ,Case No.1247/02, Cog. No.06.03.2000
  • 147,148,332,336,186,427 Section 7 C. L. A. Act,PS.-Karnalganj, Allahabad, UP Criminal Case No.02/14
  • 143,353,341 Criminal Case No.603/13,PS.-Civil Lines, Allahabad, UP
Share