UA-128663252-1

SP सांसद आजम खान पर कस रहा ED का शिकंजा, शुरू हुई जौहर विश्‍वविद्यालय की जांच

लखनऊ। सपा सांसद आजम खां की मुश्किलें कम होती जा रही हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जौहर यूनिवर्सिटी की जांच शुरू कर दी है। बुधवार को निदेशालय की टीम रामपुर पहुंची और किसानों के बयान दर्ज किए। आजम खां पर किसानों की जमीन कब्जाने के 28 मुकदमे दर्ज हैं।

सपा सांसद आजम खां के खिलाफ करीब साल भर पहले मुकदमे दर्ज कराने का सिलसिला शुरू हुआ था। उनके खिलाफ कारीब 90 मुकदमे दर्ज किए गए थे, जिनमें जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जमीन कब्जाने के भी 28 मुकदमे शामिल हैं। अगस्त 2019 को प्रवर्तन निदेशालय ने भी इसका संज्ञान लिया था। ईडी के लखनऊ कार्यालय में आजम खां के खिलाफ मनी लॉंड्रिंग का केस दर्ज किया गया था। प्रशासन ने भी इस संबंध में रिकार्ड मांगा गया था, जो भेज दिया गया था।

Gyan Dairy

बुधवार को अचानक लखनऊ से आई ईडी की टीम सहायक निदेशक अतुल जायसवाल के नेतृत्व में रामपुर पहुंच गई। टीम ने अजीमनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने वाले आलियागंज के किसानों को बुलवाया और उनसे जमीनों पर कब्जे के बारे में पूछताछ की। टीम एक-एक किसान को अंदर बुलाती रही और जानकारी जुटाती रही। बाद में ईडी की टीम सींगनखेड़ा के प्राइमरी स्कूल परिसर भी पहुंची और जमीन को लेकर पूछताछ की। गौरतलब है कि सांसद आजम खां, उनकी पत्नी विधायक डा. तजीन फातिमा और पुत्र अब्दुल्ला आजम कई मामलों में सीतापुर की जेल में छह माह से बंद हैं।

Share