स्वर्ण भारत परिवार की सेवानीति का विस्तार, बिहार, उत्तराखण्ड व राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष घोषित

स्वर्ण भारत परिवार ने सेवानीति का विस्तार करते हुए तीन राज्यों के प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किये। राजस्थान से समाज सेवी पूनम खंगारोत, बिहार से अनीता देवी और उत्तराखण्ड से डॉक्टर गोपा शर्मा को स्वर्ण भारत की सेवानीति की कमान मिली । राष्ट्रीय कार्यालय से सभी चयनित अध्यक्षो को शुभकामनाएं देने का तांता लगा रहा ।

 

स्वर्ण भारत 2011 से एक सामाजिक ग्रुप की तरह कार्य कर रहा था, लेकिन विधिवत ट्रस्ट एक्ट में रजिस्ट्रेशन 2017 में करवाया गया । मुख्यतः केंद्र विंदु में कार्य क्षेत्र दिल्ली है । यहां से उत्तरप्रदेश बिहार झारखंड बंगाल तक शाखाएं हैं । दूसरी तरफ हरियाणा, राजस्थान, उत्तराखण्ड सहित देश के समस्त राज्यों में हमारे वालंटियर और पदाधिकारी अपनी सेवाएं दे रहे हैं । कार्यालय दिल्ली, मुम्बई, उत्तरप्रदेश, बिहार, झारखंड, बंगाल, हिमाचल प्रदेश सहित नेपाल, श्रीलंका, इंडोनेशिया आदि देशों में हमारी शाखाएं मौजूद है।

Gyan Dairy

स्वर्ण भारत परिवार पीयूष ग्रुप की वार्षिक इनकम का 99% प्रतिशत लाभांश सामाजिक कार्यों में खर्च करता है , इसके अलावा कई सारे डोनेशन देने वाले मित्र व ट्र्स के सदस्य हैं जो सेवानीति के प्रोत्साहन हेतु धन खर्च करते हैं । जैसा कि नियम है कि 3 साल की ऑडिट व बैलेंस शीट की आवश्यकता होती है किसी भी सरकारी प्रोजेकट के लिए, खुशी हो रही है बताते हुए की हमने सेवानीति के लिखित रूप से 3 वर्ष पूर्ण कर लिए हैं , जल्द ही सरकारी प्रोजेक्त पर भी फोकस किया जाएगा ।

स्वर्ण भारत की सेवानीति का मुख्य उद्देश्य
100 % शिक्षा 100% रोजगार 100% चिकित्सा हेल्थ, समानता का अधिकार, युवा आत्मनिर्भर, वृद्ध विकलांग वेसहारा लोगो के पुनर्वास पर विभिन्न योजनाओं का संचालन प्रमुख है। स्वर्ण भारत परिवार प्रवासी मजदूरों की मदद आज भी कर रहा है , करीब 500 से अधिक मजदूरों व फंसे हुए लोगो को उनके घर पहुंचाया गया है, और आज भी मुम्बई, दिल्ली, हरियाणा, गुजरात मे फंसे हुए लोगो को भोजन पानी के साथ सारी मदद कराई जा रही है । साथ ही गाँव गाँव लोगो के लिए रोजगार सृजित हो इसलिए सरकारों को कई सुझाव दिए जा रहे हैं ।

स्वर्ण भारत परिवार देश को पुनः गोल्डन इंडिया यानी सोने की चिड़िया बनाने की मुहिम का नाम है। एक ऐसा देश जहां मनुष्य ही नही बल्कि प्रकृति भी अपने विकास, उदभव,के चरम की प्राप्ति करें, जानवर झरने, जंगल सहित समस्त प्राकृतिक संपदाओं का संरक्षण एक स्वस्थ मानव ही कर सकता है । इसीलिए हमारे हर कदम हैं स्वर्णिम भारत की ओर आप सब लोग जानना चाह रहे होंगे कि स्वर्ण भारत है क्या? स्वर्ण भारत एक परिवार है जिसमें देशभर के लोग जुड़े हुए हैं, और आप सब लोगों को इस परिवार में जोड़ कर मुझे खुशी हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share