फ्रांस में हुए आतंकी हमले को सही ठहराने वाले शायर मुनव्वर राणा के खिलाफ FIR

हाल ही में फ्रांस में मुस्लिम समुदाय के व्यक्ति द्वारा कार्टून विवाद को लेकर एक शिक्षक की हत्या कर दी गयी थी जिसके बाद इस्लामिक आतंकवाद का मुद्दा उठ गया. इस हमले के समर्थन में लगभग सभी मुस्लिम देश आ गये और मुस्लिम समुदाय के लोगों ने उस हमले को जायज ठहराया है साथ ही लगातार फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. लखनऊ के मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने भी फ्रांस में हुए उस आतंकी हमले को सही ठहराया था और एक विवादित बयान भी दिया था, जिसको लेकर आज लखनऊ के हजरतगंज थाने में शायर मुनव्वर राणा के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया गया है. FIR में इस बयान को वैमनस्यता बढ़ाने वाला बताया गया है.

पुलिस के मुताबिक मुनव्वर राणा के द्वारा दिया गया बयान सामाजिक सौहार्द्र को बिगाड़ने के लिए पर्याप्त है जिसकी वजह उनके खिलाफ ये FIR दर्ज की गई है.

शायर मुनव्वर राणा के खिलाफ दर्ज FIR में कहा गया है कि फ्रांस में कार्टून विवाद पर हत्याओं को सही ठहराने का उनका सामाजिक सौहार्द्र को बिगाड़ने के लिए पर्याप्त है. पुलिस ने कहा है कि ये बयान समुदायों को बीच वैमनस्यता फैलाने वाला, सामाजिक सौहार्द्र पर विपरित प्रभाव डालने वाला है और इससे लोक शांति भंग होने की आशंका है. पुलिस ने मुनव्वर राणा के खिलाफ आईपीसी की धारा 153a 295a 298 505 सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है.

Gyan Dairy

डीसीपी सेंट्रल सोमेन वर्मा के मुताबिक मुनव्वर राणा ने एक निजी चैनल पर बयान दिया गया था जिसमें फ्रांस में कार्टून विवाद के बाद की गई हत्या को सही बताया गया था. उन्होंने कहा कि यह बयान सौहार्द्र बिगाड़ने लायक बयान है. इसके बाद FIR दर्ज की गई है.

बता दें कि शायर मुनव्वर राणा ने फ्रांस में बेगुनाहों का कत्ल करने वाले का बचाव किया था. मुनव्वर राणा ने तर्क देते हुए कहा कि अगर मजहब मां के जैसा है, अगर कोई आपकी मां का, या मजहब का बुरा कार्टून बनाता है या गाली देता है तो वो गुस्से में ऐसा करने को मजबूर हैं. उन्होंने कहा कि मुसलमानों को चिढ़ाने के लिए ऐसा कार्टून बनाया गया.

Share