रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति गिरफ्तार, पुलिस ने लखनऊ से पकड़ा

समाजवादी पार्टी के नेता गायत्री प्रजापति को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनपर बलात्कार का आरोप है। गायत्री को पुलिस ने लखनऊ से गिरफ्तार किया है। गायत्री प्रजापति पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद FIR दर्ज हुई थी। लेकिन फिर भी चुनाव प्रचार के दौरान पुलिस ने उन्हें नहीं पकड़ा था। बाद में वह लापता हो गए।

49 साल के गायत्री प्रजापति पर सामुहिक बलात्कार और यौन उत्पीड़न के आरोप है। उनपर एक महिला के सामुहिक बलात्कार और महिला की बेटी का उत्पीड़न करने का आरोप है। प्रजापति ने महिला के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था। उन्होंने दावा किया कि जिस महिला के आरोप पर मुकदमा दर्ज हुआ है, वह पहले भी कई लोगों पर ऐसे इल्जाम लगा चुकी है।

गायत्री प्रजापति पर जमीन कब्जे, खनन घोटाला, आय से अधिक संपत्ति, बलात्कार और मारपीट के कई आरोप लग चुके हैं। इन्हीं आरोपों की वजह से वे मंत्रिमंडल से बर्खास्त किए गए थे लेकिन मुलायम सिंह यादव के दबाव में अखिलेश को प्रजापति को वापस लाना पड़ा। इसके बाद सपा-कांग्रेस गठबंधन के बाद अमेठी से टिकट पाने में भी गायत्री कामयाब रहे। गायत्री प्रजापति इस बार विधानसभा का चुनाव हार गए।

Gyan Dairy

चुनाव आयोग में दाखिल किए गए हलफनामे के मुताबिक, गायत्री पिछले पांच सालों में छह गुना ज्यादा अमीर हो गए। गायत्री के पास कुल 10.02 करोड़ रुपए की चल-अचल संपत्ति है। जिसमें से 6.89 करोड़ उनके और 3.13 करोड़ पत्नी के नाम पर है। उनकी दौलत में पूरे छह गुना की बढ़ोतरी हुई है। 2012 में दाखिल किए गए हलफनामे के मुताबिक तब उनके पास 1.72 करोड़ रुपए की संपत्ति थी।

Share