वेयर हाउसिंग और लॉजिस्टिक्स प्रोजेक्ट के तहत एक लाख लोगों को नौकरी मिलने का सुनहरा अवसर,जानें योगी सरकार की योजना

लखनऊ। यूपी में चल रही औद्योगिक परिजना के विकास हेतु औद्योगिक विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव आलोक कुमार ने कहा है कि ग्रेटर नोएडा में मल्टी-मॉडल लॉजिस्टिक्स हब और मल्टी-मॉडल ट्रांसपोर्ट हब को विकास के लिए लगभग 3,884 करोड़ रुपये की लागत आएगी। जिसके चलते राज्य के एक लाख लोगों को रोजगार करने का अवसर मिलेगा। इसके साथ ही ईस्टर्न एवं वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के माध्यम से माल के कुशल भंडारण और परिवहन की सुविधा भी उपलब्ध होगी। यात्रियों की सुविधा के लिए बोराकी में रेल, सड़क और एमआरटीएस के साथ ही मल्टी-मोडल ट्रांसपोर्ट हब परियोजना में अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल,लोकल बस टर्मिनल, मेट्रो, वाणिज्यिक,रिटेल और होटल सहित हरित स्थान भी होगा।

दादरी में लॉजिस्टिक हब परियोजना को एक विश्वस्तरीय सुविधा के रूप में विकसित किया जाएगा जो फ्रेट कंपनियों और ग्राहकों को एक-स्टॉप प्रदान करेगी। सतीश महाना ने मेसर्स नानक लॉजिस्टिक्स प्राइवेट लिमिटेड के निवेश प्रस्ताव को अनुमोदित कर दिया है। यह वेयरहाउसिंग इकाई लखनऊ के सरोजनी नगर के भउकापुर गांव में 86,000 वर्ग मीटर के क्षेत्र में बनेगी। जिसमें 85 करोड़ रुपये का लागत आऐगी। आलोक कुमार ने बताया कि वेयर हाउसिंग और लॉजिस्टिक्स क्षेत्र में निवेश के लिए राज्य सरकार को लगभग 438 करोड़ रुपये के छह प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं। इनमें से अनुमोदित इकाई राज्य सरकार की स्वीकृति प्राप्त करने वाली पहली परियोजना है।

 

Gyan Dairy

 

Share