हाथरस केस: BJP के पूर्व MLA बोले- मां और भाई ने की थी पीड़िता की हत्या, रंजिशन फंसाये है चारों युवक

नई दिल्ली। हाथरस सामूहिक दुष्कर्म कांड योगी सरकार के गले की फांस बनता जा रहा है। अभी पीड़िता के परिजनों के बयानों की गुत्थी सुलझी भी नहीं थी आज यानी शुक्रवार को भाजपा के पूर्व विधायक राजवीर सिंह पहलवान ने युवती की हत्या के लिए उसके परिजनों को ही जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने खुलकर कहा कि लड़की को उसके भाई और मां ने ही मारा है। रंजिशन चारों निर्दोष युवकों को फंसाया गया है। पूर्व विधायक ने कहा कि सांसद राजवीर सिंह दिलेर को जनता सबक सिखाएगी।

बता दें कि आरोपी रामू के पिता राकेश ने आरोप लगाया था कि उनके बेटे को इस मामले में क्षेत्रीय सांसद राजवीर दिलेर और उनकी बेटी मंजू दिलेर ने फंसवाया है। इसकी वजह यह है कि दूसरा पक्ष यानी युवती का परिवार वाल्मीकि जाति का है और सांसद भी इसी बिरादरी के हैं जबकि वे लोग (आरोपी) ठाकुर हैं।

रामू के पिता ने कहा है कि यदि मेरा बेटा दोषी है तो उसे सरेआम गोली मार दी जाए। राकेश ने आरोप लगाया है कि इस मामले में निर्दोष लोग फंसाए गए हैं। उन्होंने कहा है कि वे ठाकुर जाति के हैं। रवि मेरे बड़े भाई का बेटा और संदीप मेरे सबसे बड़े भाई का नाती है। सभी निर्दोष हैं। यह उनके पड़ोसी हैं। आस-पास में झगड़ा तो चलता रहता है। उन्होंने कहा है कि यह घटना 14 सितंबर को हुई है। पहले केवल संदीप का नाम था।

Gyan Dairy

उसके बाद गांव में राजवीर दिलेर की बेटी मंजू दिलेर ने अपनी फेसबुक पर लिखा है कि उनकी 18 सितंबर को परिजनों से बात हुई और उन्होंने मुझे और नाम बताए। इसके बाद मंजू दिलेर व सांसद ने यह नाम बढ़वा दिए।

Share