Kanpur Shootout: विकास दुबे के साथी उमाकांत ने थाने पहुंचकर किया सरेंडर, बोला-डरा हुआ था

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर कांड (Kanpur Shootout) में 8 पुलिस कर्मियों की बेरहमी से हत्या कर दी गयी थी. इस मामले में मुख्य आरोप गैंगस्टर विकास दुबे व उसके दर्जनो साथियों पर मुकदमा दर्ज हुआ था. सभी आरोपी मौके से फरार हो गये थे जिसके बाद पुलिस ने विकास दुबे समेत 6 अपराधियों को एनकाउंटर में मार दिया वहीं कुछ की गिरफ्तारी हुई. फिल्हाल अभी भी कुछ आरोपी फरार चल रहे हैं. वहीं फरार चल रहे आरोपियों में से 50 हजार के इनामिया बदमाश उमाकांत शुक्ला ने आज थाने पहुंकर सरेंडर कर दिया.

शनिवार को उमाकांत शुक्ला अपनी पत्नी और बेटी के साथ खुद चौबेपुर थाने पहुंचा और पुलिस से सरेंडर कर दिया. इस दौरान उमाकांत शुक्ला ने गले में तख्ती लटकाई थी. जिसमें खुद के विकास दुबे का साथी होने और कानपुर कांड के बाद आत्मग्लानि की बात कही गई. उमाकांत शुक्ला ने पुलिस से रहम की गुहार लगाते हुए कहा कि मैं सरेंडर करने आया हूं.

Gyan Dairy

जैसे ही उमाकांत शुक्ला थाने पहुंचा तो पुलिस उसे देखकर हक्का बक्का हो गयी. उमाकांत से पुलिस ने पूछताछ की तो उसने कहा मेरा नाम उमाकांत शुक्ला उर्फ गुड्डन है. चौबेपुर कांड में मैं विकास दुबे के साथ शामिल था. मुझे पकड़ने के लिए रोज पुलिस छापेमारी कर रही है, जिससे मैं बहुत डरा हुआ हूं. हम लोगों द्वारा जो घटना की गई थी, उसकी हमें बहुत आत्मग्लानि है. मैं खुद पुलिस के सामने हाजिर हो रहा हूं. मेरी जान की रक्षा की जाए, मुझ पर रहम किया जाए. वहीं इस दौरान उमाकांत शुक्ला की बेटी ने भी पुलिस से हाथ जोड़कर गुजारिश की कि उसके पापा सरेंडर करने आए हैं, पुलिस उस पर रहम करे.

Share