कासगंज कांडः मृत सिपाही के पिता ने कहा-बेटा शहीद हुआ है, बदला चाहिए

कासगंज। कासगंज में शराब माफियाओं के हमले में सिपाही देवेंद्र की मृत्यू हो गयी। वहीं, दारोगा गंभीर रूप से घायल हो गए। इस घटना के बाद पुलिस ने एक आरोपी को मुठभेड़ में ढेर कर दिया है। वहीं, पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचे देवेंद्र के पिता ने जिलाधिकारी से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि उनका एक ही बेटा था जो 2015 में पुलिस में भर्ती हुआ था और 2017 में उसकी शादी हुई थी।

बेटा शहीद हुआ है। इसका बदला लेना चाहिए। वहीं, सिपाही देंवेंद्र की मौत की खबर से परिजनों को रो रोकर बुरा हाल है। गांव में भी मातम छाया हुआ है। देवेन्‍द्र के पिता महावीर सिंह किसान हैं। देवेन्‍द्र उनके इकलौते बेटे और परिवार की उम्‍मीद थे। शराब माफियाओं ने उनका कत्‍ल कर परिवार से यह उम्‍मीद छीन ली।

देवेन्‍द्र की छोटी बहन प्रीति की शादी मई में तय है। देवेन्‍द्र की शहादत की खबर मिलते ही गांव में मातम पसर गया था। हर शख्‍स देवेन्‍द्र को याद कर रहा है। बता दें कि, देवेन्‍द्र की अभी 2016 में ही शादी हुई थी। पत्नी का नाम चंचल है। पति की मौत की खबर से पत्नी को गहरा धक्का लगा है। उनकी हालत किसी से देखी नहीं जा रही है। दो बेटियां हैं। बड़ी बेटी वैष्णवी तीन साल की है। छोटी बेटी महज चार माह की है।

Gyan Dairy

 

Share