लॉकडाउन: कानपुर में सपा MLA इरफान सोलंकी पर FIR दर्ज, हॉटस्पाट में की थी बैठक

लखनऊ। कोरोना संकट के बीच यूपी के कानपुर में सपा विधायक की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। यहां प्रेम नगर में हॉट स्पॉट क्षेत्र में सपा विधायक इरफान सोलंकी ने लोगों के साथ बैठक की। पुलिस ने माना है कि विधायक के इस कदम से क्षेत्र में महामारी फैलने की आशंका हो गई है। इस बैठक का वीडियो वायरल होने पर पुलिस ने शुक्रवार को विधायक इरफान सोलंकी, उनके भाई और जिस मकान के सामने बैठक हुई थी, वहां रहने वाले पूर्व पार्षद फरहान लारी समेत अज्ञात समर्थकों के खिलाफ लॉकडाउन के उल्लंघन और महामारी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया।

विधायक को हॉट स्पॉट एरिया में जाने और भीड़ को जुटने से न रोक पाने पर तकिया पार्क के चौकी प्रभारी सुरेंद्र नारायण शुक्ल को निलंबित कर दिया गया है। वायरल वीडियो में दिख रहे सीओ सीसामऊ त्रिपुरारी पांडेय, प्रभारी निरीक्षक चमनगंज राजबहादुर सिंह और प्रभारी निरीक्षक बजरिया राममूर्ति यादव से स्पष्टीकरण मांगा है कि उनकी मौजदूगी में विधायक ने भीड़ जुटाकर बैठक कैसे की और उन्होंने क्या कार्रवाई की।

पुलिस के मुताबिक गुरुवार को 42 सेकंड का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इसमें सपा विधायक इरफान सोलंकी और सीओ सीसामऊ त्रिपुरारी पांडेय, इंस्पेक्टर चमनगंज की मौजूदगी में करीब 100 लोगों का जमावड़ा दिख रहा है। वीडियो चमनगंज इलाके के हॉट स्पॉट क्षेत्र मोहम्मद अली पार्क का है। विधायक यहां 45 दिन से चले रहे हॉट स्पॉट को खुलवाने के लिए पहुंचे थे। पुलिस ने बताया कि 19 मई को ही नया मरीज आया है, ऐसे में नियमानुसार इस क्षेत्र को हॉट स्पॉट से बाहर नहीं किया जा सकता। इसी दौरान बड़ी संख्या में समर्थक जमा हो गए। उन्होंने न शारीरिक दूरी का पालन किया, न मास्क लगा रखा था।

Gyan Dairy

एसएसपी अनंत देव तिवारी का कहना है कि प्रथमदृष्ट्या जांच में चौकी प्रभारी की लापरवाही पाई गई है। उन्हें निलंबित कर दिया गया है। घटनाक्रम को लेकर सीओ सीसामऊ एवं चमनगंज व बजरिया के थाना प्रभारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया है। विधायक, उनके भाई व एक पूर्व पार्षद के खिलाफ लॉकडाउन के उल्लंघन और आपदा निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

Share