मथुरा में सर्राफा लूट कांड के आरोपी हुए गिरफ्तार, रंगा-बिल्‍ला गैंग ने दिया था वारदात को अंजाम

सोमवार को मथुरा के सर्राफा लूट कांड के सभी छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस के मुताबिक रंगा-बिल्‍ला गैंग ने उस वारदात को अंजाम दिया था. दरअसल मथुरा में सोमवार को बीच बाजार स्थित सर्राफा व्यापारी मयंक अग्रवाल की दुकान को लूटने करीब आधा दर्जन हथियारबंद लुटेरे पहुंचे. लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने चार लोगों को गोली मार दी जिनमें से दो की मौके पर ही मौत हो गई. अन्य दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए.

मृतकों में दुकान मालिक विकास अग्रवाल (30) तथा डैम्पीयर नगर निवासी मेघ अग्रवाल (34) शामिल हैं. विकास अग्रवाल के छोटे भाई मयंक अग्रवाल, दुकान के कारीगर अशोक साहू और महमूद अली का इलाज चल रहा है.

वह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी. दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में लूट की घटना साफ-साफ दिखाई दी. बदमाश अपने मुंह को हेलमेट और कपड़ों से ढके हुए थे. बदमाश दुकान में शीशे का दरवाजा खोलते हुए दाखिल हुए. दुकान मालिकों ने बदमाशों को गेट पर रोकने की कोशिश की तो बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी. लुटेरों ने बड़े ही आराम से दुकान से सोना और नकदी अपने बैग और जेबों में भरा. सीसीटीवी कैमरे का टीवी उखाड़कर तोड़ डाला और लूट करके चले गए.

Gyan Dairy

खास बात यह रही कि यह घटना मथुरा के व्यस्त बाजार होली गेट से चंद कदमों की दूरी पर कोयला गली स्थित ‘मयंक चेन्से’ में हुई थी. होली गेट पर हमेशा पुलिस तैनात रहती है. घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल में पहुंचाया.

उधर, इस घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस महानिदेशक से गहरी नाराजगी व्यक्त की और घटना की जांच के आदेश दिए थे. कई पुलिसवालों को भी निलंबित कर दिया गया था.

Share