मथुरा सांसद हेमामालिनी : मुख्यमंत्री से व्यापारियों को कड़ी सुरक्षा दिलवायेगी

मथुरा की सांसद हेमा मालिनी कल बुधवार को अपने संसदीय क्षेत्र मथुरा पहुंची। मथुरा पहुंचने के बाद ज्वेलर्स के यह हुई डकैती के संबंध में जानकारी लेने के बाद उन्होंने कहा  कि मथुरा में अब अपराध बहुत बढ़ गया है। इससे पहले ऐसी स्थिति नही थी।

हेमामालिनी ने इसके बाद कहा, मैंने तो कभी ऐसा सोचा भी नहीं था कि यहां ऐसा होगा। मैं तो यहां यह सोचकर आयी थी कि मथुरा भगवान कृष्ण की नगरी है।यहां कण-कण में कृष्ण का वास है, लेकिन अब देखती हूं कि यहां कृष्ण से भी ज्यादा कंस पैदा हो गए हैं। दुःखी मन से उन्होंने कहा यहाँ पहले ऐसा नहीं था।

हेमा मालिनी ने कहा कि वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर यहां के व्यापारियों को कड़ी सुरक्षा मुहैया कराने के लिए मांग करेंगी। हेमा मालिनी 15 मई को मथुरा के सर्राफा बाजार में दो व्यापारियों की हत्या करके लाखों-करोड़ों के ज़ेवरात की लूट के बाद आज पीड़ित परिवारों से मिलने पहुंची थीं।उन्होंने दोनों परिवारों के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया।

उन्होंने कहा, परिजनों ने मुझे बताया है कि न तो वहां घायलों को लाने के लिए उस समय स्ट्रेचर मिला, न ही ड्यूटी पर कोई डॉक्टरथा। यहां तक कि जब परिजन घायलों को जिला अस्पताल के आपातकालीन विभाग तक लेकर पहुंचे, वहाँ बिजली चली गई, वहां बिजली की कोई वैकल्पिक व्यवस्था भी नहीं थी।

Gyan Dairy

हेमामालिनी ने कहा, मैं सांसद होने के नाते ही नहीं, एक औरत होने के नाते भी इस घटना से बेहद दुखी हूं। दोनों व्यापारियों की पत्नी, छोटे-छोटे बच्चे, परिवार वाले आदि सभी दुखी हैं। घटना का पता लगने के बाद से मैं लगातार उनके संपर्क में रही हूं। घटना के बाद घायल हुए पांच व्यापारी एवं कारीगरों को सरकारी अस्पताल में उचित इलाज एवं अन्य सुविधाएं न मिल पाने के सवाल पर उन्होंने कहा, हां, मैंने भी देखा है कि मथुरा के अस्पतालों में डॉक्टर नहीं रहते।

मृत व्यापारी मेघ अग्रवाल के पिता महेश चंद्र अग्रवाल ने अपराधियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई एवं मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की। वहीं विकास गोयल के पिता मोहन लाल गोयल एवं परिजनों ने मृत व्यापारी के आश्रितों को मुआवजा, लूटा गया पूरा माल बरामद कराने जैसी मांगें सांसद के समक्ष रखीं।

Share