रामपुर की रावण पुलिस : पहले हमारे साथ सेक्स करो, फिर करेगें तुम्हारे रेपिस्ट गिरफ्तार

यूपी में रामपुर की पुलिस, आजम खान की चोरी गई भैंस तो पाताल से भी बरामद कर लेती हैं लेकिन आम आदमी की यहा सुनवाई नही है. पुलिस की क्रूरता यहां सारी सीमायें तब लांघ गई जब रेप की पीड़िता को न्याय दिलाने की जगह उसी के शारीरिक शोषण का कुत्सित प्रयास किया गया.

परेशान महिला ने एक बार फिर ऑफिसर से मदद की गुहार लगाई, लेकिन इस बार ऑफिसर से हुई बातचीत रिकॉर्ड कर ली. जिसके बाद जब महिला सबूत के साथ बुधवार को महिला SP के पास गई, तब SP ने गंज स्टेशन ऑफिसर को इस मामले की जांच कर रिपोर्ट जमा करने का आदेश दिया गया.

रामपुर के गंज पुलिस स्टेशन में 37 वर्षीय महिला अपने साथ रेप करने वालों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने जब पुलिस थाने पहुंची तो वहां मौजूद दारोगा ने उससे मदद के बदले सेक्स की ही मांग कर डाली. जब महिला ने इस मांग को मानने से इनकार कर दिया, तो तैनात सब-इंस्पेक्टर, जय प्रकाश सिंह ने मामले में क्लोजर रिपोर्ट फाइल कर दी.

पुलिस के मुताबिक, 12 फरवरी की रात महिला का दो लोगों ने गैंगरेप किया, जिनमें से एक उसका परिचित था. महिला अपने एक रिश्तेदार के यहां से वापस रामपुर सिटी लौट रही थी तभी दोनों ने उसे लिफ्ट दी, उसे घर छोड़ा और घर में उसे अकेला देख बंदूक की नोक पर महिला के साथ रेप किया.

Gyan Dairy

खबर के मुताबिक रेप पीड़िता ने कहा, जब भी मैंने SI जय प्रकाश सिंह से आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए कहा, उन्होंने पहले मेरे साथ सेक्स करने की मांग रखी. उन्होंने मुझे फोन कर के भी अपने घर आने को कहा. जब मैंने ऐसा करने से मना कर दिया, उन्होंने मामले में क्लोजर रिपोर्ट दायर कर दी.

पुलिस ने इस मामले में FIR दर्ज करने से इनकार कर दिया था. इसके बाद महिला ने स्थानीय कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और फिर एक हफ्ते बाद इस मामले में केस दर्ज किया गया. 21 फरवरी को 55 वर्षीय अमीर अहमद और 45 वर्षीय सत्तार अहमद के खिलाफ IPC की धारा 376 डी (गैंगरेप), 323 और 506 के तहत मामला दर्ज किया गया. महिला ने मजिस्ट्रेट के सामने अपना बयान दर्ज किया.

Share