यूपी की कानून व्यवस्था को लेकर विपक्ष ने योगी सरकार को चारो तरफ से घेरा, जाने किसने क्या कहा?

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बीते कुछ दिनो से ताबड़तोड़ घटनाएं हुई हैं जिनमे लूट, हत्या, अपहरण, फिरौती और डकैती जैसी वारदातें शामिल हैं। इन घटनाओं की वजह से सोशल मीडिया पर भी योगी सरकार का मजाक उड़ाया जा रहा है वहीं विपक्ष ने भी चारो तरफ से योगी सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। कानपुर कांड के बाद गाजियाबाद में जिस तरह से पत्रकार की हत्या कर दी गयी और फिर कानपुर में ही एक युवक की अपहरण के बाद हत्या हो गयी, कहीं न कहीं ये कानून व्यवस्था पर बड़ा सवाल है। अगर बात पिछले 2 दिनो की करें तो इन दो दिनो में तीन बड़ी वारदातों से यूपी पुलिस के इकबाल पर सवालिया निशान खड़े हो गए हैं।

जहां परसों देर रात कासगंज में 4 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। वहीं कल ही गोरखपुर में फिरौती के लिए किडनैप किए गए 12 साल के मासूम को मौत के घाट उतार दिया गया। जबकि देर रात दिल्ली से सटे गाजियाबाद में घर में घुसकर बदमाशों ने डकैती कर डाली। इस दौरान बदमाशों ने घरवालों को गन प्वाइंट पर बंधक बना लिया और महिलाओं के साथ बदसलूकी भी की। इन घटनाओं से पहले कानपुर के संजीत यादव का किडनैपिंग केस और मर्डर पुलिस की नाकामी की प्रमुख खबर बन चुकी थी।

बढ़ती घटनाओं को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं। प्रियंका गांधी ने योगी सरकार को चिट्ठी लिखकर अपराधियों पर सख्त कार्रवाई करने की नसीहत दी है। प्रियंका गांधी ने चिट्ठी में लिखा है कि कानपुर, गोंडा, गोरखपुर की घटनाएं आपके संज्ञान में होंगी। मैं गाजियाबाद के एक परिवार की पीड़ा के बारे में बताना चाहूंगी। मेरी इस परिवार से बात हुई है। व्यवसायी करीब एक महीने से गुमशुदा हैं। यूपी में अपहरण की घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं और कानून व्यवस्था बिगड़ती जा रही है। इस समय इन मामलों के प्रति पुलिस और प्रशासन की जिम्मेदारी है कि पूरे मुस्तैदी और दक्षता से कार्रवाई करें।

यूपी में बढ़ते क्राइम को लेकर बीएसपी प्रमुख मायावती ने भी सवाल खड़े किए हैं। मायावती ने आरोप लगाया कि यूपी में अपराधियों का राज चल रहा है। प्रदेश में पुलिस का नहीं अपराधियों का खौफ है। मायावती ने कहा कि, ‘पूरे यूपी में हत्या व महिला असुरक्षा सहित जिस तरह से हर प्रकार के गंभीर अपराधों की बाढ़ लगातार जारी है उससे स्पष्ट है कि यूपी में कानून का नहीं बल्कि जंगलराज चल रहा है अर्थात् यूपी में कोरोना वायरस से ज्यादा अपराधियों का क्राइम वायरस हावी है। जनता त्रस्त है। सरकार इस ओर ध्यान दे।’

Gyan Dairy


वहीं समाजवादी पार्टी के मुखिया और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी गोरखपुर किडनैपिंग केस को लेकर योगी सरकार पर हमला बोला है। अखिलेश ने ट्वीट किया है कि गोरखपुर से अपहृत बच्चे की हत्या का समाचार बेहद दर्दनाक व दुखद है। शोकाकुल परिवार के प्रति गहरी संवेदना। लगातार अपहरण और हत्याओं के बावजूद भी भाजपा सरकार का निर्लज्ज मौन और निष्क्रियता प्रश्नचिन्ह के घेरे में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share