ग्राम प्रधान और बीडीसी के लिए आरक्षण सूची जारी, ऐसे करें चेक

लखनऊ। शासन ने यूपी में त्रिस्‍तरीय पंचायत चुनाव की आरक्षण लिस्‍ट जारी करने की तैयारी पूरी कर ली है। इस लिस्‍ट पर आठ मार्च तक आपत्तियां दर्ज कराई जा सकेंगी। सूची को लेकर 12 मार्च तक आपत्तियां दर्ज कराई जा सकती हैं। इन आपत्तियों का निस्‍तारण कर 15 मार्च को फाइनल लिस्‍ट जारी कर दी जाएगी। आरक्षण सूची को लेकर प्रदेश में पंचायत चुनाव के दावेदारों के बीच खासा बेचैनी थी। महिला, अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित और अनारक्षित सीटों के आवंटन की सूची कुछ देर में जारी होने वाली है।

जानकारी के मुताबिक आगामी 25-26 मार्च तक चुनाव आयोग जिला पंचायत अध्यक्ष, जिला पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य और ब्लॉक प्रमुख पदों के लिए चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी जाएगी। अप्रैल से नामांकन शुरू हो जाएगा। माना जा रहा है कि 10 अप्रैल से पंचायत चुनाव की शुरुआत होगी।

पंचायत चुनाव की आरक्षण सूची पर डीएम की मुहर लगने के बाद थोड़ी देर में इसे ब्‍लॉक मुख्‍यालयों पर चिपका दिया जाएगा। सूची में सभी ग्राम पंचायतों का विवरण शामिल होगा। इस बार उत्तर प्रदेश सरकार आरक्षण में चक्रानुक्रम प्रक्रिया का पालन कर रही है। इसी आधार पर सूची तैयार की गई है।

Gyan Dairy

उत्‍तर प्रदेश में प्रदेश में जिला पंचायत सदस्यों की 3 हजार 51 ब्लॉक प्रमुखों की 826, क्षेत्र पंचायत सदस्यों की 75 हजार 855, ग्राम प्रधान पद की 58 हजार 194 और ग्राम पंचायत सदस्यों की 7 लाख 31 हजार 813 सीटें हैं। इनमें 51 फीसदी सीटें अनारक्षित हैं। एक फीसदी सीटें अनुसूचित जनजाति, 21 फीसदी अनुसूचित जाति, 27 फीसदी अन्य पिछड़ा वर्ग और एक तिहाई महिलाओं के लिए रिजर्व हैं।

Share