मुस्लिम रोजेदार महिला के साथ डरा-धमकाकर किया गया बलात्कार, देखिये पीड़िता का बयान

चलती ट्रैन में महिला से बलात्कार की घटना जिसे सुनकर ही आप का दिल दहल जाये, और यह घटना जब और घिनौनी हो जाती है जब इस घटना को अंजाम देने वाला और कोई नहीं खुद रेलवे पुलिस का सिपाही हो, पीड़ित ने जब अपना बयांन दर्ज कराया तो वह बयान उस के दर्द को बताता है।

जब मुझे होश आया तो वहां पर बहुत सारी पब्लिक थी। शोर-शराबा हो रहा था। साहब मुझे इंसाफ़ चाहिए, मैं पढ़ी-लिखी नहीं हूं. इस महिला ने अपने लिए इन्साफ की गुहार लगाई है और इन्होने यह भी साफ़ किया है कि, मैं ज्यादा पढ़ी-लिखी नहीं हूँ, लेकिन मुझे इन्साफ चाहिए। जिस महिला और लड़कियों के साथ इस तरह घिनौना काम किया जाता है उन्हें तो बीच चौराहे पर सबके सामने लटका दिया जाना चाहिए ताकि, आगे से ये वहशी दरिंदे इस तरह की हरकत करने से पहले हजार बार सोचे। उत्तर प्रदेश में भाजपा ने पहले यह वादा किया था कि, उनका राज आने के बाद महिलाएं सुरक्षित रहेगी। लेकिन देखने में आ रहा है कि, योगी सरकार आने के बाद बलात्कार और हत्या के मामले ज्यादा सामने आ रहे हैं।

पीड़ित महिला ने पुलिस को बयान देते हुए कहा की वह लखनऊ से मेरठ का सफर तय करने के लिए ट्रैन में बैठी थी ,तभी एक पुलिस वाला ट्रैन में चढ़ा उस ही डब्बे में एक सिपाही भी बैठा था ,जब में ट्रैन से उतरने लगी तो उसने मुझे वापस खींच लिया और कहने लगा की अगर शोर मचाया तो तुझे गोली मार दूंगा , जिससे पीड़ित काफी ज्यादा डर गई यह लफ्ज़ है। जनता और कानून के रखवालों के पीड़िता ने आगे बताया कि उसने मेरे साथ मारपीट करके बलात्कार किया। मैं बेहोश हो गई थी।

Gyan Dairy

योगी सरकार के कानून व्यवस्था पर अब बड़े सवाल खड़े होने लगे हैं। हालाँकि,  मीडिया में इनको ज्यादा जगह नहीं मिल पा रही हैं। क्योंकि हमारी  मीडिया इस हद तक गिर चुकी है कि, वह हमारे देश में हो रहे गंभीर मुद्दों को सबके सामने पेश करने की हिम्मत भी नहीं कर पाती हैं। हर महिला की तरह इस महिला ने भी अपने इंसाफ के लिए सरकार से मदद मांगी और इसके अपराधी को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की हैं। पीड़िता मेरठ के लिसाड़ी गेट थाने क्षेत्र की है। फिलहाल उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Share