आरएसएस ने योगी को इसलिए बनवाया सीएम ताकि वह उनके मंसूबे पूरे कर सके

यूपी के मुख्यमंत्री पद की रेस में केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा सबसे आगे चल रहे थे लेकिन अचानक ही पासा पलटा और बाजी मार गए योगी आदित्यनाथ। खबरों की माने तो योगी आदित्यनाथ को यूपी के मुख्यमंत्री पद पर बिठाने के पीछे आरएसएस और विहिप का हाथ था।

क्योंकि आरएसएस को भरोसा था की हिन्दू राष्ट्र बनाने का काम योगी आदित्यनाथ ही बेहतर ढंग से कर सकते हैं।

इसके लिए किसी एक मोदी पर भरोसा नहीं किया जा सकता। मोदी के अलावा भी आरएसएस को कोई कोई ऐसा चाहिए था जो मोदी के बाद भी उनके हिन्दू राष्ट्र बनाने वाले मंसूबों को अंजाम देने में उनकी मदद कर सके। सूत्रों का कहना है कि परिस्थितियां तो कुछ इसी ओर इशारा कर रही हैं कि योगी आदित्यनाथ आरएसएस की प्रयोगशाला के दूसरे मोदी हैं।

Gyan Dairy

दरअसल पीएम मोदी योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री नहीं बनाना चाहते थे। उनका मानना था की किसी ऐसे शख्स को मुख्यमंत्री नहीं बनाना चाहते। जो मोदी से मजबूत हो और कभी उनकी राह में खड़े होने की सोच सके। जो सिर्फ उनके इशारों पर काम कर सकें। लेकिन योगी को आरएसएस और विश्व हिन्दू परिषद के जोर डालने पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और मोदी को मजबूरन योगी आदित्यनाथ को दिल्ली बुलाना पड़ा।

 

Share