कांग्रेस के लिए झटका, थाम सकती हैं भाजपा का दामन:रीता बहुगुणा जोशी

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश में कांग्रेस को बड़ा झटका लग सकता है।

अगले साल की शुरुआत में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में जी-जान से लगी कांग्रेस को निकट भविष्य में उसकी प्रमुख नेता रीता बहुगुणा जोशी बड़ा झटका दे सकती हैं. यह चर्चा तेज है कि हाशिये पर धकेल दी गयी रीता बहुगुणा जोशी का कांग्रेस से मोहभंग हो चुका है और वे बहुत जल्द भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकती हैं. ब्राह्मण वोटों को जोेड़ने की जुगत में लगी कांग्रेस के शीर्ष नेताओं की बेचैनी इस खबर से बढ़ सकती है. समाचार एजेंसी हिंदुस्थान न्यूज ने खबर दी है कि रीता बहुगुणा जोशी इन दिनों भारतीय जनता पार्टी के कई  नेताओं के संपर्क में हैं और निकट भविष्य में भाजपा में शामिल हो सकती हैं. रीता बहुगुणा जोशी ने पिछला लोकसभा चुनाव लखनऊ से भाजपा के राजनाथ सिंह के खिलाफ लड़ा था. उनके भाई व उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा पहले ही कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो चुके हैं.

सोशल मीडिया में यह खबर वायरल है कि रीता बहुगुणा किसी भी समय भाजपा के साथ जा सकती हैं, क्योंकि उन्हें ऐसा लग रहा है कि पार्टी में उन्हें हाशिये पर ला दिया गया है. रीता बहुगुणा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा की बेटी हैं.

हालांकि अभी यह सिर्फ अटकलें हैं और इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है लेकिन सोशल मीडिया पर जो ख़बरें चल रही हैं उसके मुताबिक़ रीता बहुगुणा किसी भी समय भाजपा के साथ जा सकती हैं क्योंकि उन्हें ऐसा लग रहा है कि पार्टी में उनका कद काफी छोटा हो गया है।

Gyan Dairy

लखनऊ के कैंट से विधायक रीता बहुगुणा जोशी को हाल में कांग्रेस में हुए फेरबदल में दरकिनार कर दिया गया था उन्हें पार्टी ने कोई बड़ी जिम्मेदारी नहीं दी है जिससे वो नाराज हैं। इसी नाराजगी के चलते वह राहुल गांधी की किसान यात्रा में भी कहीं नजर नहीं आईं।

Share