UA-128663252-1

SIT का दावा: क्रेशर व्यापारी इंद्रजीत ने खुद को मारी थी गोली

लखनऊ। आईपीएस अफसर मणिलाल पाटीदार अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर है। हालांकि एसआईटी ने महोबा के चर्चित खनन व्यवसायी इंद्रकांत त्रिपाठी मर्डर मिस्ट्री के खुलासे कर दावा किया है। इस मामले में एसआईटी की जांच में कई ऐसे साक्ष्य मिले हैं जिससे हत्या की पूरी कहानी ही बदल गयी है। जांच में सामने आया है कि इंद्रकांत त्रिपाठी ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मारी थी। एसआईटी ने व्यापारी की लाइसेंसी पिस्टल भी बरामद की है, जिससे इंद्रकांत को गोली लगी थी। पिस्टल की बैलिस्टिक रिपोर्ट मिलने के बाद एसआईटी ने अपनी जांच पूरी कर शासन को भेज दी है।

बता दें कि इंद्रकांत त्रिपाठी ने महोबा के पूर्व एसपी मणिलाल पाटीदार पर रिश्वत खोरी के गंभीर आरोप लगाए थे और अपनी हत्या की आशंका व्यक्त की थी। आरोप लगाने के अगले ही दिन रहस्मय परिस्थितियों में इंद्रकांत को गोली लग गयी थी, जिसके बाद उन्हें कानपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां 5 दिनों बाद इंद्रकांत की मौत हो गई थी। इस मामले में एसपी महोबा को पहले ही निलंबित किया जा चुका है। इंद्रकांत पर हमले के मामले में भी पाटीदार को नामजद किया गया था।

Gyan Dairy
Share