एसएसबी ने पकड़ी एक करोड़ नेपाली मुद्रा, पांच हिसारत में

मुखबीर के द्वारा नेपाली मुद्रा ले जाने की जानकारी एसएसबी अफसरों को हो गयी।  उन्होंने रकम के साथ नेपाल जा रहे लोगों को अपने हिरासत में ले लिया।  जानकारी व्यापार मण्डल के अध्यक्ष विजय रौनियार को दी गयी।

05-680x340-1-620x330

Gyan Dairy

घटना अपरान्ह करीब तीन बजे की है। । उन्होंने व्यापारियों से अपना बकाया वसूला। चूंकि उन्हें नेपाली मुद्रा मिली इसलिए वह उसे भारतीय मुद्रा में बदलने के लिए नेपाल जा रहे थे। । बताया जाता है कि इसी बीच इतनी बड़ी रकम के नेपाल ले जाने की जानकारी मुखबीर के द्वारा एसएसबी अफसरों को हो गयी। उन्होंने रकम को नो मेन्स लैण्ड पर नेपाल जाने से पूर्व ही रोक लिया। रौनियार ने उपाध्यक्ष जगदीश जायसवाल के साथ एसएसबी के अफसरों से बात की.रकम को जवानों ने अपने कब्जे में ले लिया। इसके साथ ही करीब आधा दर्जन उन लोगों को हिरासत में लिया गया है, जो उस रकम को  नेपाल ले जा रहे थे। उधर रकम के सम्बन्ध में सोनौली के व्यापारियों ने एसएसबी अधिकारियों को अवगत कराया कि रकम सूरत के उन व्यापारियों का  है जो यहां के व्यापारियों से बकाया वसूली के बाद जमा की गयी थी। भारत नेपाल की सोनौली सरहद पर तैनात सशस्त्र सीमा बल के जवानों ने आज अपरान्ह एक करोड़ नेपाली मुद्रा को पकड़ा। उक्त रकम कुछ व्यापारियों द्वारा नेपाल ले जायी जा रही थी। खबर है कि इतनी बड़ी रकम के नेपाल ले जाने की जानकारी एसएसबी के अफसरों को मुखबीर के जरिये मिली।  समाचार लिखे जाने तक पकड़ी गयी रकम और हिरासत में लिये गये लोगों से एसएसबी के अधिकारी पूछताछ कर रहे थे।  व्यापारियों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार सूरत के कुछ व्यापारी नौतनवा व सोनौली के दुकानदारों से अपने बकाये रकम की भुगतान के लिए आये थे।

Share