अन्तराष्ट्रीय युवा दिवस पर स्वर्ण भारत परिवार ने दिया ‘युवा आत्मनिर्भर भारत’ का नारा

स्वर्ण भारत परिवार ने पुनः युवा स्वयं सहायता समूह बनाने पर जोर दिया है, जिससे जुड़ कर आप आत्मनिर्भर बन सकते हैं। स्वर्ण भारत परिवार का मानना है कि युवा विश्व की तस्वीर बदल सकते हैं, परिवार का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस एक मौका है युवाओं की आवाज को आगे लाने का, कार्यों और उनकी सार्थक पहल को विश्वस्तर पर पहचान दिलाने का। हर साल की तरह इस बार भी 12 अगस्त को दुनियाभर में युवा दिवस मनाया जाएगा। हालांकि कोरोना के खतरे को देखते हुए इस बार के कार्यक्रम ऑनलाइन माध्यम से किए जाएंगे। संयुक्त राष्ट्र द्वारा इस दिन पॉडकास्ट-शैली से चर्चाएं होंगी, इसमें विभिन्न क्षेत्रों के युवा शामिल होंगे और सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक मुद्दों पर अपनी बात रखेंगे।

अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस का उद्देश्य
इस दिवस का मुख्य उद्देश्य है सामाजिक, आर्थिक और राजनीती के मुद्दों पर युवाओं की भागीदारी और उनकी भूमिका पर चर्चा करना।

piyush pandit

अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस 2020 का थीम
हर साल की तरह इस बार भी संयुक्त राष्ट्र महासभा ने अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के पर एक थीम चुनी है। इस बार की थीम है, ‘वैश्विक कार्य के लिए युवाओं की भागीदारी’ (Youth Engagement for Global Action), थीम का उद्देश्य है स्थानीय, राष्ट्रीय और वैश्विक स्तर पर युवाओं की भागीदारी के तरीकों को उजागर करने के लिए राष्ट्रीय और बहुपक्षीय संस्थानों और प्रक्रियाओं को समृद्ध करने के साथ-साथ औपचारिक संस्थागत राजनीति में उनके प्रतिनिधित्व और भागीदारी को बढ़ावा देना।

Gyan Dairy
swarna bharat parivaar

अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस कब से और क्यों मनाया जाता है
संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 17 दिसंबर 1999 को यह फैसला लिया गया कि 12 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस मनाया जाएगा। यह फैसला युवाओं के लिए जिम्मेदार मंत्रियों के विश्व सम्मेलन द्वारा 1998 में दिए गए सुझाव के बाद लिया गया। अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस का आयोजन पहली बार साल 2000 में किया गया था। संयुक्त राष्ट्र संघ ने 1985 में अंतरराष्ट्रीय युवा वर्ष घोषित किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share