विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अहम होगा योगी कैबिनेट का विस्तार, जानें खास बातें

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार की अगुवाई कर रहे योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल विस्तार को लगभग तय माना जा रहा है। दरअसल बीते एक साल में कोरोना के चलते यूपी के तीन मंत्रियों की मौत हो चुकी है। इसके चलते मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चाओं ने जोर पकड़ रखा है। माना जा रहा है कि आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए कुछ नए चेहरों को भी कैबिनेट में जगह मिल सकती है।

जब से पीएम नरेन्द्र मोदी के करीबी माने जाने वाले पूर्व आईएएस एके शर्मा को यूपी में एमएलसी बनाया गया है तभी से इस बात की भी चर्चा हो रही है कि उन्हें भी योगी कैबिनेट में जगह मिल सकती है।इस समय योगी कैबिनेट में 53 मंत्री हैं। इसमें 23 कैबिनेट मंत्री, 9 राज्य मंत्री  स्वतंत्र प्रभार और 21 राज्य मंत्री हैं। माना जा रहा है कि मंत्रिमंडल विस्तार के बाद मंत्रियों की संख्या 60 हो सकती है। ऐसे में किन नए चेहरों पर दांव लगाया जाएगा ये देखना दिलचस्प होगा।

Gyan Dairy

बता दें कि गत वर्ष होमगार्ड मंत्री और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का कोरोना के चलते कार्डियक अटैक होने से निधन हो गया था। इसके बाद कैबिनेट मंत्री और कानपुर के घाटमपुर से विधायक रहीं कमल रानी वरुण की भी कोरोना से मौत हो गई थी। इस साल कोरोना की दूसरी लहर में मंत्री विजय कश्यप का निधन हो गया। यूपी के सियासी गलियारे में कई दिनों से मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चाएं चल रही थी। संघ सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले भी लखनऊ पहुंच गए। होसबोले ने जियामऊ स्थित विश्व संवाद केंद्र में बैठक की। बताया जा रहा है कि लखनऊ में कई बैठकें भी होंगी।

Share