यूपी में शुरू हुई मेनस्ट्रीमिंग आॅफ टेली लाॅ सर्विस, गरीबों को मिलेगा सस्ता न्याय

यूपी स्टेट लीगल सर्विसेस अथॉर‍िटी के प्रोग्राम में हाईकोर्ट पहुंचे सीएम योगी आद‍ित्यनाथ ने कहा कि गरीबों को सस्ता, सुलभ न्याय द‍िलाना हमारी प्राथम‍िकता है। इसके लिए हमारी सरकार प्रतिहद्ध है। साथ ही उन्होंने कहा कि महिलाओं से संबंध‍ित पारिवारिक मामलों का निस्तारण जल्दी संभव होगा। न्याय के क्षेत्र में नई शुरुआत का स्वागत है। न्याय आसानी से मिले, ये बहुत जरूरी है। अगर प्रशासन संवेदनशील हो जाए तो बहुत से मामले कोर्ट जाने से बच सकते हैं।

सिविल के कई मामलों में दंड से अलग व्यवस्था की ओर देखना पड़ रहा है। समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को सस्ता, सुलभ न्याय मिलना चाह‍िए। यूपी में न्यायिक क्षेत्र में बुनियादी सेवाओं को मजबूत करने के लिए सरकार पूरी मदद करेगी। तहसील दिवस को समाधान दिवस में बदलने से अच्छे परिणाम आएंगे। हमें 500 टेली लॉ सेंटर मिलेंगे।

इसके अलावा सीएम योगी ने कहा कि तहसील और थाना दिवस को मजबूत बनाने की जरूरत है। विषम हालातों के बावजूद लोक अदालत सफल है। पुरानी न्याय व्यवस्था धर्म की व्यापक अवधारणा में समाहित थी। धर्म के खिलाफ काम करने वालों के खिलाफ दंड की व्यवस्था थी। ब्रिटिश भारत ने भी उस व्यवस्था को स्वीकार किया। हमारी पुरानी व्यवस्था गहन मामलों को सुलझाने वाली रही है, जिसमें दंड के साथ प्रायश्चित की व्यवस्था थी।

Gyan Dairy

बता दें कि इस प्रोग्राम में केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद भी पहुंचे। उनके अलावा सुप्रीम कोर्ट के जस्ट‍िस दीपक मिश्रा, इलाहाबाद हाईकोर्ट के चीफ जस्ट‍िस डीवाई भोसले भी मौजूद रहे। यूपी के कानून मंत्री बृजेश पाठक भी प्रोग्राम में शिरकत करने पहुंचे। इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्ट‍िस डीवाई भोसले ने कहा क‍ि कानून और न्याय के प्रति सीएम योगी आदित्यनाथ के दृष्टिकोण पर खुशी है।

Share